फरार हत्यारोपी की तलाश में तीन टीमें जुटी, एक दर्जन से अधिक ठिकानों पर दबिश

-Three-teams-were-searched-for-the-absconding-killer-bheem-yadav-

भोपाल। जेल से पेशी पर भिंड लाए गए हत्या के आरोपी भीम यादव को उसका भाई अपने साथियों की मदद से पुलिस टीम पर हमला कर कल रात छुड़ा ले गया। इस मामले में ग्वालियर क्राइम ब्रांच सिहित पुलिस की तीन टीमें आरोपियों की तलाश में जुटी हैं। बताया जा रहा है कि आरोपी की लोकेशन दिल्ली रूट पर ट्रेस की गई है। वहीं रात भर में पुलिस ने कई टोल नाकों के सीसीटीवी फुटैज खंगाले हैं। हालांकि जंगलों के रास्ते आरोपियों के भागने का अनुमान है। वहीं पुलिस ने बीती रात आरोपी के करीब एक दर्जन ठिकानों पर दबिश दी है। उसके आधा दर्जन से अधिक रिश्तेदारों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। ग्वालियर पुलिस ने ज्लद आरोपी को गिरफ्तार कर पूरे मामले का खुलासा करने का दावा किया है।

जानकारी के अनुसार कल दोपहर को दो गाडिय़ों में सवार होकर आए हमलावरों ने पुलिसकर्मियों की आंखों में मिर्ची झोंकी और उनकी जमकर पिटाई की। हत्या के आरोपी को उनकी हिरासत से छुड़ाया और पुलिसकर्मियों की 2 इनसास रायफ लें लूट लीं। हमलावर एक सिपाही का भी अपहरण कर ले गए। यह सनसनीखेज घटना शुक्रवार रात 8 बजे ग्वालियर के महाराजपुरा थाने से करीब 3 किमी दूर लक्ष्मणगढ़ की पुलिया पर हुई। ग्वालियर पुलिस ने हमलावर और फ रार कैदी की तलाश में शहर व उप्र, राजस्थान की सीमा पर नाकाबंदी कर दी थीं। आरोपी भीम यादव को 30 सितंबर को ग्वालियर जेल से भोपाल जेल में शिफ्ट किया गया था। भीम पर भिंड में 2 फ रवरी 2017 में डीजे के गार्ड राजेंद्र यादव की हत्या का मामला दर्ज है।  शुक्रवार सुबह भोपाल पुलिस के हवलदार मायाराम के नेतृत्व में तीन सिपाही प्रमोद यादव, विवेक शर्मा और हकीम खान हत्यारोपी भीम यादव को लेकर ट्रेन से ग्वालियर आए थे। यहां से सड़क मार्ग से वे उसे भिंड कोर्ट में पेशी के लिए ले गए। पेशी कराने के बाद शाम को उसे लेकर ग्वालियर लौट रहे थे। 

– इनका कहना है

भीम यादव व साथियों की तलाश में क्राइम ब्रांच सहित तीन टीमें जुटी हैं। उनके संभावित ठिकानों पर लगातार दबिश दी जा रही है। आरोपियों के एहम सुराग हाथ लगे हैं। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर अगवा पुलिसकर्मी को मुक्त करा लिया जाएगा।

नवनीत भसीन, एसपी ग्वालियर