तीस हजारी विवाद: पुलिस के समर्थन में उतरा मप्र IPS एसोसिएशन, सुरक्षा की मांग

भोपाल

तीस हजारी कोर्ट में वकीलों और पुलिसकर्मियों में छिड़े युद्ध के बीच मध्य प्रदेश आईपीएस एसोसिएशन ने दिल्ली पुलिस को समर्थन दिया है।एसोसिएशन ने वकीलों द्वारा दिल्ली पुलिस पर किए गए हमले की निंदा की है। एसोसिएशन ने जनता की तरह पुलिस को भी सुरक्षित रहने के अधिकार की बात कही। 

मध्य प्रदेश आईपीएस एसोसिएशन का कहना है कि आम नागरिक की तरह पुलिस को भी सुरक्षित रहने का अधिकार है। हम दिल्ली पुलिस के साथ हैं। ये ज़िम्मेदारी राजनीतिक प्रतिनिधि के साथ साथ जुडिशरी की भी है कि पुलिस को भी सुरक्षा प्रदान करें। पुलिस पर हमला करने वाले अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाई होनी चाहिए।

बता दे कि बीते दिनों दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट परिसर में पुलिस और वकीलों के बीच विवाद हो गया था।बात इतनी बढ़ी कि कुछ लोगों ने पुलिस की गाड़ियों में आग लगा दी थी, इसके बाद हालात काबू करने के लिए पुलिस ने फायरिंग कर दी थी, जिसमें एक वकील घायल हो गया था।इसके बाद विवाद बढ़ा तो  मंगलवार को दिल्ली पुलिस के जवान सड़कों पर उतर आए और घटना का जमकर विरोध करते हुए धरना दे दिया।हालांकि आला अधिकारियों से मिले आश्वासन के बाद करीब 11 घंटे बाद पुलिसकर्मियों ने ये धरना खत्म कर दिया। एक अधिकारी ने बताया कि प्रदर्शन कर रहे पुलिसवालों की मागें मान ली गई हैं। इस पूरे मामले में गृह मंत्रालय ने दिल्ली हाईकोर्ट से स्पष्टीकरण मांगा है। मंत्रालय ने हाईकोर्ट से ‘वकीलों पर कार्रवाई न करने’ के आदेश पर सफाई देने के लिए कहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here