भोपाल।

राजगढ़ जिले के सरेड़ी गांव में एक किशोर के डूबने के बाद उसे खोजने के लिए आई होमगार्ड टीम द्वारा मृतक के पिता से पेट्रोल के पैसे मांगने की घटना को सीएम कमलनाथ ने गंभीरता से लिया है।कमलनाथ ने इस घटनाक्रम पर नाराजगी जताते हुए प्रशासन को जांच के निर्देश दिए है।

सीएम कमलनाथ ने ट्वीट कर लिखा है कि ” राजगढ़ के सरेडी गाँव में एक किशोर के नहाने के दौरान तालाब में डूबने की घटना पर होमगार्ड की टीम द्वारा किशोर को ढूँढने के लिये परिजनो से नाव के लिये पेट्रोल के पैसे माँगे जाने की घटना संज्ञान में आयी है।प्रशासन को घटना की निष्पक्ष जाँच के निर्देश दिए गए है।जाँच में घटना सही पाये जाने पर दोषियों पर कड़ी कार्यवाही के निर्देश दिए गए है। ”

दरअसल,   सरेड़ी गांव में दिवाली के दूसरे दिन पड़वा पर ललित सौंधिया और राजू सौंधिया तालाब पर भैंस को नहलाने गए थे। इस बीच नहाते हुए दोनों डूबने लगे।राजू तो जैसे-तैसे किनारे पर पहुंच गया, लेकिन ललित (18) नहीं पहुंच पाया। ललित को तलाशने सोमवार को आपदा राहत का काम संभालने वाली होमगार्ड टीम मौके पर पहुंची और  सारी संवेदना को ताक पर रखकर मृतक के पिता से ही बोट चलाने के लिए पेट्रोल मांग लिए। दोनों दिन बेटे के गम में बेहाल पिता ने ही एक-एक हजार रुपए का पेट्रोल मंगाकर दिया, तभी बोट चलाई गई। हालांकि इसके बाद भी यह टीम किशोर को तलाश नहीं पाई। मंगलवार को भोपाल की टीम पहुंची। लेकिन किसी को सफलता नहीं मिली। बुधवार दोपहर 3 बजे के बाद युवक का शव किनारे से करीब 20 फीट दूर उसी स्थान पर मिला, जहां वह डूबा था। घटना की सूचना मिलते ही पूर्व विधायक हेमराज कल्पोनी भी मौके पर पहुंची औऱ होमगार्ड की इस हरकत पर नाराजगी जताते हुए कलेक्टर व एसपी से शिकायत की। जिसके बाद जिला कमांडेंट होमगार्ड राजगढ़ ने पैसे वापस करने की बात कही है।इस पर लोगों का भी जमकर गुस्सा फूटा। इधर सूचना मिलते ही सीएम ने ट्वीट कर जांच के आदेश दिए है।

<blockquote class=”twitter-tweet” data-lang=”en”><p lang=”hi” dir=”ltr”>राजगढ़ के सरेडी गाँव में एक किशोर के नहाने के दौरान तालाब में डूबने की घटना पर होमगार्ड की टीम द्वारा किशोर को ढूँढने के लिये परिजनो से नाव के लिये पेट्रोल के पैसे माँगे जाने की घटना संज्ञान में आयी है।<br>1/2</p>&mdash; Office Of Kamal Nath (@OfficeOfKNath) <a href=”https://twitter.com/OfficeOfKNath/status/1189824368961941505?ref_src=twsrc%5Etfw”>October 31, 2019</a></blockquote>

<script async src=”https://platform.twitter.com/widgets.js” charset=”utf-8″></script>

<blockquote class=”twitter-tweet” data-lang=”en”><p lang=”hi” dir=”ltr”>प्रशासन को घटना की निष्पक्ष जाँच के निर्देश।<br>जाँच में घटना सही पाये जाने पर दोषियों पर कड़ी कार्यवाही के निर्देश।<br>2/2</p>&mdash; Office Of Kamal Nath (@OfficeOfKNath) <a href=”https://twitter.com/OfficeOfKNath/status/1189824370648076288?ref_src=twsrc%5Etfw”>October 31, 2019</a></blockquote>
<script async src=”https://platform.twitter.com/widgets.js” charset=”utf-8″></script>