बुधवार को कमलनाथ कैबिनेट की अहम बैठक, हो सकते है कई बड़े फैसले

farmers-will-be-the-adviser-in-MP-Agricultural-Advisory-Council

भोपाल।
एमपी में जारी सत्ता संग्राम के बीच पल पल बदलाव देखने को मिल रहा है। कब क्या हो जाए कहा नही जा सकता है।सुबह सीएम कमलनाथ ने राज्यपाल को पत्र लिख फ्लोर टेस्ट से इंकार कर दिया तो वही सिंधिया समर्थकों ने पीसी कर सरकार पर गंभीर आरोपों की झ़ड़ी लगा दी। उधर सुप्रीम कोर्ट ने मध्यप्रदेश सरकार और राज्यपाल समेत कईयों को नोटिस जारी किया और 24 घंटे के अंदर जवाब मांगा है। इन सभी राजनैतिक घटनाक्रमों को बीच कंमलनाथ सरकार ने कल यानि 18 मार्च को शाम चार बजे कैबिनेट की बैठक बुलाई है।

इस बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा की जाएगी।बैठक में सुप्रीम की सुनवाई के बाद जो फैसला आएगा उस पर चर्चा हो सकती है।बागी विधायकों आगामी राज्यसभा चुनावों पर चर्चा की जा सकती है। सरकार की पूरी कोशिश है कि दो सीटों कांग्रेस को मिले।वही प्रदेश के हित में फैसले लिए जा सकते है। जिस तरह से पिछली कैबिनेट में कर्मचारियों के मंहगाई भत्ते और कोरोना वायरस को लेकर बड़ा फैसला किया गया था।वही कई खाली पदों पर नियुक्तियां की गई थी। माना जा रहा है कि कैबिनेट में प्रदेश को लेकर और बड़े कई फैसले हो सकते है।

इन प्रस्तावों पर लग सकती है मुहर

कमलनाथ कैबिनेट की बैठक में मैहर, नागदा और चाचौड़ा को जिला बनाने का प्रस्ताव।

अतिथि विद्वानों को लेकर फैसला

युवाओं को लेकर कोई फैसला