4 मई से शुरू होगी टोल टैक्स की वसूली, लॉकडाउन में सरकार को करोड़ों का नुकसान

भोपाल

3 मई को लॉकडाउन (lockdown) के दूसरे चरण (second phase) के समाप्त होने का सभी को इंतज़ार है। हालांकि हालात देखते हुए अभी तय नहीं है कि लॉकडाउन खत्म कर दिया जाएगा या आगे बढ़ाया जाएगा। ये भी संभव है कि राज्य सरकारों (state government) को इस बारे में निर्णय लेने के लिये अधिकृत कर दिया जाए, लेकिन फिलहाल तो प्रदेश में कई आर्थिक गतिविधियों (financial activities) के संचालन की शुरूआत या तो हो चुकी है या होने की तैयारी में है। इसी के तहत 4 मई से टोल प्लाज़ा (toll plaza) पर काम शुरू हो जाएगा।

बता दें कि प्रदेश में नेशनल स्टेट हाइवे (national state highway) पर 250 के करीब टोल प्लाजा (toll plaza) हैं और लॉकडाउन के दौरान सबपर काम बंद है। लेकिन अब मध्य प्रदेश रोड डेवलपमेंट अथॉरिटी(MP Road Development Authority )  ने आदेश जारी कर दिए हैं कि 3 मई रात बारह बजे से इनपर काम शुरू हो जाएगा और पहले की तरह टोल टैक्स (toll tax) लेना शुरू किया जाएगा। इन टोल बूथों (toll booth) पर टैक्स (tax) की वसूली और वाहनों की चैकिंग की नियमित प्रक्रिया शुरू होने के दौरान कर्मचारियों को हाथ में ग्लव्स पहनना और चेहरे पर मास्क लगाना अनिवार्य होगा। इसी के साथ केबिन में बने रहने और चैकिंग के दौरान सोशल डिस्टेंस (social distance) का पालन करना होगा और थोड़ी थोड़ी देर में हाथों को सेनेटाइज़ भी करना होगा। बता दें कि सरकार टोल टैक्स वसूलने के लिये एजेंसी नियुक्त करती है, एमपीआरडीसी (MPRDC) इसकी मॉनिटरिंग करता है और निगम टोल टैक्स (toll tax) की राशि तय करता है। लंबे समय से टोल प्लाजा बंद होने के कारण सरकार और एजेंसी को करोड़ों का नुकसान हो रहा है और इसीलिये लॉकडाउन के खत्म होने का इंतजार किया जा रहा था ताकि टैक्स वसूली फिर से शुरू की जा सके।