स्कूल बसों का औचक निरीक्षण करने पहुंचे परिवहन मंत्री, 11 के चालान काटे, 2 जब्त

transport-minister-govind-sing-rajput-check-school-buses-in-bhopal

भोपाल।

सत्ता संभालते ही कमलनाथ सरकार के मंत्री एक्शन मोड़ में आ गए है। इसी कड़ी में आज सुबह परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत स्कूलों बसों का औचक निरिक्षण करने पहुंचे। चेतक ब्रिज से कटारे पेट्रोल पंप के आसपास निरीक्षण के दौरान मंत्री ने कई बसों में अनियमितताएं पाए जाने पर 11 बसों का चालान बनाया। वही  नियमों की अनदेखी करने वाले स्कूल बसों पर कार्रवाई करने के निर्देश देते हुए 2 बसों को जप्त किया। मंत्री के इस औचक निरीक्षण से बस चालकों में हड़कंप मच गया है।

             दरअसल, स्कूल बसों की शिकायतों को लेकर परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने आज सुबह करीब 7 बजे स्कूल बसों का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान वे बस के अंदर चढ़े और चेक किया की कहीं ज्यादा बच्चों को तो नहीं बैठाया गया है। 8 से 10 बसों में उन्हें स्पीड गर्वनर नहीं मिला। चेतक ब्रिज से कटारे पेट्रोल पंप के आसपास निरीक्षण के दौरान स्कूल  बसों में कई सारी कमियां सामने आई।कई ड्राइवर और कंडक्टर ड्रेस में नहीं थे, तो कई बसों में मेडिकल किट पूरी नहीं मिली, कुछ स्कूली वैन पर पीले रंग की जगह सफेद रंग की नेम प्लेट लगाई हुई थी, तो कई स्कूल बसों का मेंटेनेंस सर्टीफिकेट ही नहीं बना हुआ था। इस पर मंत्री गोविंद ने ड्राइवर और कंडक्टर को जमकर फटकार लगाई।

11 चालान बनाए और 2  बस जब्त की

जांच के दौरान 8 से 10 बसों में स्पीड गर्वनर नहीं मिला। इसके साथ ही बसों में सीसीटीवी कैमरे भी नहीं लगे थे। करीब 11  बसों के चालान बनाए गए और दो बसे जब्त की गई। वही मंत्री ने स्कूल बसों पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

ज्यादातर स्कूल बसों में नहीं है मेडिकल किट

जांच में ये भी सामने आया कि कई स्कूल बसों में मेडिकल किट पूरी नहीं मिली। दवाइयां एक्सपायरी डेट की पाई गई। बसों में रूट चार्ट नहीं मिला। वहीं कुछ स्कूली वैन पर पीले रंग की जगह सफेद रंग की नेम प्लेट लगाई हुई थी, साथ ही कई स्कूल बसों का मेंटेनेंस सर्टीफेट नहीं बना। कुछ बसों की हालत बहुत खराब दिखी।