कांग्रेस में घमासान: अब गोविंद सिंह बोले- CM को हमें समय तो देना ही होगा और सुनना भी पड़ेगा

Transport-Minister-Govind-Singh-Rajput-Statement-on-cm-kamalnath

भोपाल।

इन दिनों कांग्रेस में अंदर के हालात ठीक नह��� है। कई गुटों में बंटी कांग्रेस के बाद अब कैबिनेट में भी दो खेमे हो गए है। एक कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया का तो दूसरा मुख्यमंत्री कमलनाथ का। स्थिति यह है कि सिंधिया खेमे के मंत्री अब खुलकर मुख्यमंत्री के खिलाफ बोल रहे है, चाहे फिर वह कैबिनेट की बैठक हो या फिर डिनर डिप्लोमेसी। अब सिंधिया खेमे के परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने मुख्यमंत्री कमलनाथ पर टिप्पणी की है और कहा है कि सीएम को हमें समय तो देना ही होगा और मंत्री  कुछ कहना चाहते है तो सुनना भी पड़ेगा।

दरअसल, कैबिनेट बैठक के दौरान उपजा विवाद अब थमने का नाम नही ले रहा है। मंत्री खुलकर मीडिया के सामने बोलने से भी नही चूक रहे है।  खाद्यमंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के बाद गुरुवार को परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने परोक्ष रूप से मुख्यमंत्री कमलनाथ पर कटाक्ष किया है।सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री की अपनी व्यस्तताएं हैं, लेकिन विधायक और मंत्रियों की समस्याएं सुनने के लिए उन्हें हमें समय तो देना ही होगा।  मंत्री कुछ कहना चाहते हैं तो सीएम को सुनना होगा। कैबिनेट में बुधवार को तोमर अपनी बात रखना चाहते थे। इसमें प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद की सियासत नहीं है। इस पर तो आलाकमान ही फैसला लेगा।

सुत्रों की माने तो इस  बयानबाजी के बाद कमलनाथ समर्थक भी सक्रिय हो गए है और तोमर और राजपूत को हटवाने में लगे है। हालांकि नाथ की ओर से ऐसे कोई संकेत नहीं मिले। इस पर अंतिम फैसला पार्टी हाईकमान ही लेगी।  वही गुरुवार को कमलनाथ मंत्रिमंडल से दो मंत्रियों को हटाने जाने की अटकले भी तेज रही। लेकिन ये बात सामने नही आई कि किन मंत्रियों को हटाया जाएगा। राजपूत के बयान ने एक बार फिर सियासत गर्मा दी है।वही बीजेपी की उस बात को भी चरितार्थ कर दिया है कि हमें सरकार गिराने की जरुरत नही वह अपने आप ही गिर जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here