Tweet War in MP Politics: सिंधिया जी, समझौते में ये सब भी शामिल था क्या..?

भोपाल।
एक हफ्ते में मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh)के गुना में हुई दो दलितों के साथ बर्बरता के बाद सियासत गर्मा गई है। उपचुनाव (BY Election) से पहले कांग्रेस (Congress) ने इनको मुद्दा बना लिया है और शिवराज सरकार और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Shivraj government and Rajya Sabha MP Jyotiraditya Scindia) की घेराबंदी करना शुरु कर दिया है। एक तरफ जहां कांग्रेस ने “शवराज चरम पर है” का आरोप लगाया है वही दूसरी तरफ सिंधिया से सवाल करते हुए पूछा है समझौते में ये सब भी शामिल था क्या..?

एमपी कांग्रेस ने ट्वीटर के माध्यम से सिंधिया और शिवराज सरकार को घेरा है।पहले ट्वीट मे कांग्रेस ने लिखा है कि सिंधिया के क्षेत्र गुना में एक और दलित के साथ बेरहमी की घटना सामने आई है। दलित को सरेआम पीटा और फिर गले में फंदा डालकर मंडी में घुमाया गया..!“शवराज चरम पर है” वही दूसरी ट्वीट में कांग्रेस ने लिखा है कि गुना में फिर एक दलित बना शिकार, गले में फंदा डालकर मंडी में घुमाया; सिंधिया जी के क्षेत्र गुना में दलित परिवार की बेरहमी से पिटाई और बच्चों की चीख़ों से देश स्तब्ध था, इसी बीच वहीं से फिर दलित प्रताड़ना की खबर विचलित करती है।सिंधिया जी, समझौते में ये सब भी शामिल था क्या..?

दरअसल, बीते दिनों मध्य प्रदेश के गुना में किसान दंपत्ति के साथ पुलिस की बर्बरता का मामला सामने आया था।पुलिस ने किसान दंपति की लाठियों से जमकर पिटाई की थी।इससे परेशान होकर किराए की जमीन पर खेती कर रहे किसान पति-पत्नी ने आत्महत्या करने का प्रयास किया था, जिसके बाद इस मामले ने काफी ज्यादा तूल पकड़ लिया था और सियासत गर्मा गई थी। जिसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज ने घटना को संज्ञान में लेते हुए गुना के कलेक्टर, एसपी और ग्वालियर आईजी को हटा दिया था और उच्च स्तरीय जांच का आदेश दे दिया था। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।अभी ये मामला ठंडा ही नही हुआ था कि शनिवार को दूसरा मामला सामने आ गया। शहर की पुरानी गल्ला मंडी में एक दलित युवक को कुछ लोगों ने ना सिर्फ पीटा बल्कि उसके गले में तौलिये का फंदा डालकर मंडी में जमीन पर घसीटा।इसके युवक की हालत बिगड़ते देख हमलावर भाग गए। इस घटना का वीडियो जैसे ही वायरल हुआ पुलिस ने मामले की जांच की तो पता चला कि महूगढ़ा निवासी धर्मेंद्र बाल्मीकि नामक युवक पर अनाज चोरी का शक था, उसे मंडी में मौजूद कुछ लोगों ने पकड़कर जमकर पीट दिया।इतना ही नही पिटाई से धर्मेंद्र बेहोश हो गया तो हमलावरों ने इसके बाद पुलिस ने धर्मेंद्र के खिलाफ चोरी का केस दर्ज कर जेल भेज दिया, जबकि हमलावरों को अज्ञात मानकर केस दर्ज किया।फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।पुलिस का कहना है कि मारपीट करने वालों की पहचान वायरल वीडियो से की जाएगी। फिर उन पर कार्रवाई करेंगे।