Twitter Profile Drama: अब सिंधिया ने तोड़ी वायरल खबरों पर चुप्पी, कांग्रेस को नसीहत

2601

भोपाल।
दो दिन से सोशल मीडिया और मीडिया (Social media and media) में सुर्खियां बनी ट्वीटर प्रोफाइल (Twitter profile) बदलने की खबरों पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री और भाजपा नेता सिंधिया (Former Union Minister and BJP leader Scindia) ने चुप्पी तोड़ी है। सिंधिया ने इस खबर को पूरी तरह झूठा और फेक बताया है।साथ ही सिंधिया ने झूठी खबरों को सच्ची खबरों से ज्यादा तेजी से फैलने की बात कही है। इससे पहले कैबिनेट मंत्री तुलसी सिलावट (Cabinet Minister Tulsi Silavat) ने इन खबरों को निराधार बताया था।

दरअसल, शुक्रवार को सोशल मीडिया पर ज्योतिरादित्य सिंधिया के ट्विटर हैंडल का स्क्रीनशॉट वायरल हुआ था, जिसमें दावा किया जा रहा था कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने प्रोफाइल से ‘बीजेपी नेता’ शब्द हटा लिया है। वही ट्वीटर पर भी #JYOTIRADITYASCINDIA ट्रेंड करने लगा था।खबर के तेजी से वायरल होने के बाद शिवराज सरकार में कैबिनेट मंत्री तुलसी सिलावट ने एक बयान जारी कर कहा था कि सिंधिया जी को लेकर सोशल मीडिया और मीडिया (Social media and media) में चल रही खबरें पूरी तरह से निराधार हैं। इसके बाद सिंधिया ने ट्वीट कर सफाई दी है।सिंधिया ने लिखा है कि दुख की बात है कि झूठी खबरें सच्चाई से ज्यादा तेजी से यात्रा करती हैं।

वही Jyotiraditya Madhavrao Scindia के फेसबुक पेज के माध्यम से कांग्रेसियों को हिदायत दी गई है कि कांग्रेस मेरी चिंता ना करे, ये राजनीति का नही जरूरतमंदों की मदद का समय है। मैं किसी राजनीतिक लाभ, पद या महत्त्वकांक्षा के लिए भाजपा में सम्मलित नही हुआ हूँ। मेरा और सिंधिया परिवार का लक्ष्य सदैव जनसेवा का रहा है,और उसी दिशा में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के सशक्त नेतृत्व में पूरे राष्ट्र के साथ मैं भी चल रहा हूँ।

ट्वीटर ट्रेंड के बाद सिलावट ने जारी किया था बयान

सिलावट ने एक बयान जारी कर कहा था कि भाजपा के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया जी को लेकर सोशल मीडिया और मीडिया (Social media and media) में चल रही खबरें पूरी तरह से निराधार हैं। सिंधिया जी ने कांग्रेस (congress) छोड़ने के पूर्व अपने ट्विटर अकाउंट के बायो में खुद को क्रिकेट प्रेमी और जनसेवक (Cricket lover and public servant) लिखा था, भारतीय जनता पार्टी (bjp)में सम्मिलित होने के बाद सिर्फ अपने प्रोफाइल पिक्चर चेंज की थी और कोई चेंज नहीं किया था।जब कोई चेंज हुआ ही नहीं तो फिर बदलने का सवाल ही कहाँ है। इस विषय पर सोशल मीडिया और मीडिया में चल रही खबरें पूरी तरह आधारहीन और बकवास है।

सिंधिया समर्थकों ने भी दी सफाई
ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा ट्वीटर पर बायो चेंज किए जाने की खबरों को उनके समर्थकों ने निराधार बताया है। उनका कहना है कि पहले भी उनके बायो में क्रिकेट प्रेमी और जनसेवक लिखा और आज भी वहीं लिखा है। इस मामले में मंत्री और सिंधिया समर्थक तुलसी सिलावट का कहना है कि कांग्रेस की जनविरोधी नीतियों से व्यथित होकर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने खुद की पहचान कांग्रेसी नेता से अलग कर जनसेवक एवं क्रिकेट फैन की बताई थी। महाराज के एक फैसले ने कांग्रेस की प्रोफाइल तो बिगाड़ दी लेकिन खौफ इस कदर हावी है कि कांग्रेसी अब सपने में भी उन्हें लेकर अफवाह फैला रहे है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here