दुष्कर्म और धोखाधड़ी के आरोपी दो कांग्रेस पार्षद फरार, गिरफ्तारी में पुलिस को छूट रहे पसीने

2716
-Two-Congress-councilors-absconding-in-rape-and-fraud-case-in-bhopal

भोपाल। राजधानी भोपाल में दुष्कर्म एवं धोखाधड़ी के आरोप में फरार चल रहे दो कांग्रेस पार्षद एवं एक पार्षद पति की गिरफ्तारी से पुलिस बच रही है। जहांगीराबाद थाना क्षेत्र में रहने वाले दो कांग्रेस पार्षद लंबे समय से फरार चल रहे हैं। जबकि एक पार्षद पति और कांग्रेस का नेता धोखाधड़ी के मामले में इसी थाने का वानटेड है।  इधर, थाना प्रभारी क्षेत्र के पार्कों में असामाजिक तत्वों की धरपकड़ में व्यस्त हैं। 

जानकारी के अनुसार भोपाल नगर निगम के वार्ड 42 की पार्षद शमीम नासिर का जहांगीराबाद थाने में वारंट पेंडिंग है। उनपर फर्जी जाति प्रमाण पत्र के आधार पर चुनाव लडऩे का आरोप है। कोर्ट के आदेश के बाद में जहांगीराबाद थाने में करीब 8 महीने पहले धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज किया गया था। वहीं कांग्रेस नेता और वार्ड 34 की पार्षद मीना यादव के पति यशवंत यादव के खिलाफ फर्जीवाड़ा कर रसूल एहमद सिद्दीकी अस्पताल के पीछे दस हजार स्कायरफिट के एक प्लॉट को कब्जा कर हड़पने और फर्जी दस्तावेज तैयार कराने के आरोपों के बाद धोखाधड़ी का मुकदमा एक महीने पहले जहांगीराबाद थाने में दर्ज किया गया था। इस मामले में पुलिस को उनकी तलाश है। वहीं नगर निगम के नेताप्रति पक्ष और वार्ड 43 के पार्षद मोहम्मद सगीर भी इसी थाना क्षेत्र के निवासी हैं और उनके खिलाफ इसी थाने में दर्ज हत्या के प्रयास के एक मामले शामिल होने के आरोपों की जांच चल रही है। उन पर आरोप है कि वारदात को उन्हीं के इशारे पर अंजाम दिया गया था। इसी के साथ में सगीर थाना कोहेफिजा में दर्ज एक बलात्कार के मामले में फरार चल रहे हैं। सूत्रों की माने तो तीनों क्षेत्र में ही रह रहे हैं। लगातार अपने करीबियों के संपर्क में हैं। पुलिस उनके रसूख के चलते गिरफ्तारी नहीं कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here