एमपी के इन दो आदिवासी जिलों में चुनावी रण में सबसे कम उम्मीदवार

2185
two-trible-district-have-less-number-of-candidate-in-election

भोपाल। विधानसभा चुनाव में नामांकन के बाद प्रदेश में लगभग सभी सीटों पर बड़ी संख्या में उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। लेकिन प्रदेश के दो आदिवासीबहुल जिले ऐसे भी हैं जहां से सबसे कम उम्मदवार मैदान में हैं। अलीराजपुर और डिंडोरी से चुनावी मैदान में सबस कम उम्मीदवार उतरे हैं। यहा जानकारी मुख्य  निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय की ओर से दी गई है। 

जानकारी के मुताबिक प्रदेश में इस बार 1102 निर्दलीय प्रत्याशियों समेत कुल दो हजार 907 प्रत्याशी मैदान में हैं। इनमें से सबसे ज्यादा 158 प्रत्याशी रीवा जिले से चुनावी मैदान में उतरे हैं। जिले में आठ विधानसभाएं हैं। सतना जिले की सात विधानसभाओं से 134, भिंड की पांच विधानसभाओं से 122, जबलपुर की आठ विधानसभाओं से 114, सागर की आठ विधानसभाओं से 110, इंदौर की नौ विधानसभाओं से 97 और भोपाल की सात सीटों से 93 प्रत्याशी मैदान में हैं।

प्रदेश में सबसे कम प्रत्याशियों वाला जिला अलीराजपुर है। आदिवासीबहुल इस जिले की दो विधानसभाओं जोबट और अलीराजपुर से कुल 13 प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। एक और आदिवासीबहुल जिले डिंडोरी की दो विधानसभाओं से 15 प्रत्याशियों ने चुनाव लडऩे का फैसला किया है। सबसे कम प्रत्याशी वाले प्रदेश के अन्य जिले आगरमालवा और बुरहानपुर हैं। दोनों जिलों में दो-दो सीटों हैं। दोनों ही जगहों पर 17-17 उम्मीदवार भाग्य आजमा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here