दिल्ली/भोपाल।

मध्यप्रदेश(madhyapradesh ) में एक समय में तेजी से फ़ैल रहे कोरोना संक्रमण(corona infection) में गिरावट आई है। जिसके साथ ही भारत की 5.4 प्रतिशत के मुकाबले मध्यप्रदेश में कोरोना ग्रोथ रेट(coroan growth rate) 2.74 प्रतिशत है। ये जानकारी मंगलवार को स्वास्थ्य और गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा(narottam mishra ) ने दी है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि एमपी देश का पहला राज्य जहां ग्रोथ रेट सबसे कम हैं। वहीँ प्रदेश में हमनें रिकवरी रेट(recovery rate) के सुधार पर काफी महत्व दिया है। इसी बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ.हर्षवर्धन(Dr. Harshvardhan) ने प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री मिश्रा को बधाई दी है। साथ ही डॉ.हर्षवर्धन ने नरोत्तम के कोरोना से निपटने के तरीके पर उनकी तारीफ़ की है।

दरअसल डॉ. हर्षवर्धन ने मंगलवार को ट्वीट(tweet) करते हुए नरोत्तम मिश्रा और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को शुभकामनायें दी है। अपनी ट्वीट में हर्षवर्धन ने लिखा है कि हमनें सुना है कि एक समय में सबसे संक्रमित रहा इंदौर अब तेजी से सुधार की तरफ बढ़ रहा है। जहाँ उसके रिकवरी रेट में काफी तेजी से सुधार हुआ है। अब ये रिकवरी रेट 64% पर पहुँच गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने लिखा है कि एमपी के स्वास्थ्य मंत्री से स्थिति की पूरी समीक्षा की और उनकी कोरोना से निपटने का तरीका काफी कामगार साबित रहा। वहीँ उन्होंने मध्यप्रदेश को आगे के लिए शुभकामनायें दी है।

बता दें कि मध्यप्रदेश में कोरोना टेस्ट की संख्या प्रतिदिन 6729 पहुंच गई है। वहीँ सबसे संक्रमित इंदौर में रिकवरी रेट 64% पर पहुँच गई है। इसके साथ ही पुरे प्रदेश में रिकवरी दर 68 फीसदी रही है। एमपी देश का पहला राज्य जहां ग्रोथ रेट सबसे कम दर्ज कि गई है। वहीँ अबतक मध्यप्रदेश के 5 जिले कोरोना मुक्त हो चुके हैं। इसके साथ राजस्थान के बाद 68.3 प्रतिशत रिकवरी रेट के साथ मध्यप्रदेश भारत में दूसरे नंबर पर आ गया है।