केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 22 अप्रैल को भोपाल प्रवास पर-आदिवासियों को मिलेगी सौगात

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। देश के केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 22 अप्रैल को भोपाल प्रवास पर रहेंगे। गृह मंत्री इस दौरान वनोपज समिति तेंदूपत्ता संग्राहक सम्मेलन के कार्यक्रम में सम्मिलित होंगे। मुख्य कार्यक्रम जंबूरी मैदान में आयोजित होगा।आयोजन की तैयारियों के लिए गुरुवार को कलेक्ट्रेट के सभागृह में कलेक्टर अविनाश लवानिया ने बैठक ली। जिसमें अपर कलेक्टर माया अवस्थी, संदीप केरकट्टा, एसडीएम, फॉरेस्ट विभाग, एमपी टूरिज्म, पीडब्ल्यूडी, आदि विभागों के अधिकारी भी उपस्थित रहे। गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी मध्य प्रदेश में वर्ष 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर भी अपनी तैयारियां शुरू कर चुकी है, केन्द्रीय गृह मंत्री कुशाभाऊ ठाकरे जन्म शताब्दी समारोह के अंतर्गत होने वाले कार्यक्रम में शिरकत करेंगे। इसे लेकर भाजपा ने तैयारियां भी तेज कर दी हैं। माना जा रहा है कि इस आयोजन के जरिए भाजपा एक बार फिर आदिवासी वोटबैंक को साधने का प्रयास कर सकती है।

यह भी पढ़ें… BHOPAL के केरवा डैम में डूबें तीन स्कूली छात्र- शव बरामद

मध्यप्रदेश के भोपाल में प्रदेश भाजपा की ओर से आयोजित इस कार्यक्रम में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहेंगे। यह आयोजन 22 अप्रैल को राजधानी भोपाल के जंबूरी मैदान पर आयोजित होगा। हालांकि उम्मीद जताई जा रही है कि इस आयोजन में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई दिग्गज भी शामिल हो सकते है। गौरतलब है कि मध्यप्रदेश में सरकार ने पायलट प्रोजेक्ट के रूप में तेंदूपत्ता बेचने का काम ग्राम वन समिति, ग्राम सभा को देने का निर्णय लिया है जिसके बाद अब वन उपज बांस बल्ली और जलाऊ लकड़ी पर वन समितियों का अधिकार होगा। समिति को अधिकार है कि वह बांस बल्ली और जलाऊ लकड़ी बेचकर लाभ कमा सकती है। कटाई से जो इमारती लकड़ी हासिल हो रही है उसका भी एक अंश समिति को दिया जाएगा। राज्य सरकार ने देवारण्य योजना में वन उत्पाद और वन औषधि को भी न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदने का फैसला किया है। जिसके बाद अब राज्य सरकार केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की मौजूदगी में प्रदेश के लाखों आदिवासियों को तेंदूपत्ता संग्रहण का बोनस भी देने की तैयारी में है बताया जा रहा है यह करोड़ों का होगा।

यह भी पढ़ें… इंदौर के निहालपुरा मुंडी में मिली अधजली लाश का खुला राज- पत्नी ने मारा, बेटी-दामाद ने जलाया

22 अप्रैल को होने वाले इस कार्यक्रम को लेकर गुरुवार को कलेक्ट्रेट में आयोजित बैठक में कलेक्टर लवानिया ने निर्देश दिए कि सभी अधिकारी कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण करें। पीडब्ल्यूडी बैरिकेडिंग के लिए आवश्यक कार्रवाई करे। गर्मी के मौसम को देखते हुए जगह-जगह पानी के पाउच कार्यक्रम स्थल पर रखे जाए ।इसके साथ ही स्वास्थ्य विभाग अपनी एक दर्जन से अधिक टीमें कार्यक्रम स्थल उसके आसपास लगाए जिससे आपात स्थिति से निपटने के लिए सुविधा हो। इसके साथ-साथ नगर निगम साफ-सफाई, टॉयलेट और बैरिकेडिंग की व्यवस्थाएं भी सुनिश्चित करें , कार्यक्रम स्थल की सुरक्षा व्यवस्था, ट्राफिक रूटप्लान करने केलिए पुलिस विभाग व्यवस्थाएं संभालेगा। इसके साथ ही विभाग के द्वारा बताया गया है कि वन समितियों तेंदूपत्ता संग्राहक लोगों का महा सम्मेलन का आयोजन होगा। इसके साथ ही अन्य व्यवस्थाओं को करने के लिए अपर कलेक्टर माया अवस्थी को नोडल और समन्वय के रूप में कार्य करने के लिए अधिकृत किया गया हैं।