भोपाल में प्रकृति प्रेमियों का अनोखा मातम

Bhopal Tree Protest : भोपाल के दानिश नगर भोपाल में 35 से अधिक पेड़ों को काटने के बाद कार्रवाई न होने से नाराज प्रकृति प्रेमियों ने अनोखा प्रदर्शन कर अपनी नाराजगी जाहिर की है, पेड़ काटने वालों पर कोई कार्रवाई नहीं होने पर इस कालोनी के रहवासी महिलाओं एवं पर्यावरण प्रेमियों ने कटे हुए पेड़ों को लेकर मातम मना कर सरकार से मांग की अगर इसी प्रकार से पेड़ काटने वाले पेड़ काटते रहेंगे तो जीने के लिए सांसे नहीं बचेंगी कोई कितने ही बड़े पद पर हो उस पर सख्त से सख्त कार्रवाई करने की जरूरत है। विरोध कर रहे लोगों ने हाथों में तख्तियाँ थाम रखी थी जिसमें उन्होंने प्रकृति और पेड़ों को बचाने की गुहार लगाई थी, वही साथ ही पेड़ों की अर्थियाँ बना रखी थी जिन पर वह दुख जता रहे थे।

इस बात को लेकर है नाराजगी 

दरअसल पिछले दिनों इस क्षेत्र में 20 से 25 साल पुराने करीबन 35 पेड़ों को विकास के नाम पर काट दिया गया था इसी को लेकर कालोनीवासियों ने पेड़ काटने वाले अमले पर कार्रवाई की मांग की थी, लोगों का आरोप है कि पूरे प्रदेश को कांक्रीट का जंगल बनाया जा रहा है पेड़ काटने वालों के हौसले बुलंद हैं सरकार को इन पर सख्त कार्रवाई करने की जरूरत है जहां मुख्यमंत्री जी एक पेड़ रोज लगा रहे हैं वहीं लगे हुए बरसों पुराने पेड़ों को 1 दिन में काट दिया जा रहा है जो कि न्यायोचित नहीं है इसी को लेकर दानिश नगर की महिलाएं बच्चे बुजुर्ग आदि ने अंशु गुप्ता के नेतृत्व में एवं बाग मुगालिया एक्सटेंशन कॉलोनी विकास समिति के अध्यक्ष उमाशंकर तिवारी व साथी गणों ने पहुंचकर मातम मना कर मुख्यमंत्री से पेड़ काटने वालों पर सख्त से सख्त कार्रवाई करने की मांग की।