बिजली कर्मियों की मांगों को लेकर यूनाइटेड फोरम ने सरकार को लिखा पत्र

भोपाल| विद्युत क्षेत्र में कार्यरत अधिकारी कर्मचारियों की मांगें पूरी न होने पर एक बार फिर मध्यप्रदेश यूनाइटेड फोरम फॉर पावर एम्पलाइज एवं इंजीनियर्स ने सरकार को पत्र लिखकर समस्याओं से अवगत कराया है| वहीं फोरम ने मुख्यमंत्री और ऊर्जा मंत्री को पत्र लिखकर उसमे उल्लेखित बिंदुओं पर चर्चा कर निराकरण की मांग की है, वहीं विद्युत् कर्मचारियों की मांग को लेकर चर्चा के लिए समय माँगा है| 

मध्यप्रदेश यूनाइटेड फोरम फॉर पावर एम्पलाइज एवं इंजीनियर्स ने पत्र के माध्यम से कहा है कि ऊर्जा मंत्री को विभिन्न मुद्दों पर विचार कर उनके निराकरण के लिए निवेदन किया गया, इसी संदर्भ में ऊर्जा मंत्री के साथ 28 मई को विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई एवं कुछ मुद्दों पर सहमति भी बनी थी लेकिन लगभग 5 माह बीत जाने के बाद भी किसी भी मुद्दे का निराकरण नहीं किया| फोरम का कहना है कि विद्युत क्षेत्र में कार्यरत अधिकारी कर्मचारी अपने आपको उपेक्षित महसूस कर रहे हैं | वर्तमान परिस्थितियों में विद्युत क्षेत्र में विद्युत व्यवस्था सुचारु रुप से संचालित करना राजस्व की वसूली करना एवं अन्य संबंधित कार्यों को करने में अधिकारी कर्मचारी को कई कठिनाइयों से गुजरना पड़ रहा है| लेकिन शासन-प्रशासन द्वारा इन सभी मुद्दों पर कोई भी गंभीरता प्रदर्शित नहीं की जा रही है जिससे कि सभी अधिकारी कर्मचारी आक्रोशित हैं | पत्र के माध्यमान से विद्युत कर्मचारियों अधिकारियों की अनेकों मांगों को पूरा करने के सम्बन्ध में यह पत्र लिखा गया है| 

बिजली कर्मियों की मांगों को लेकर यूनाइटेड फोरम ने सरकार को लिखा पत्र

बिजली कर्मियों की मांगों को लेकर यूनाइटेड फोरम ने सरकार को लिखा पत्र