मध्य प्रदेश

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की जनता के लिए बड़ी खुशखबरी है।हाल ही में प्रदेश के कोविड-19 के टीकाकरण के महाअभियान में एक दिन में 16 लाख 91 हजार 967 लोगों को वैक्सीन डोज लगाने को वर्ल्ड बुक ऑफ रिकार्ड ने वर्ल्ड रिकार्ड में शामिल कर लिया है। यह जानकारी वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड (World Book Of Records)  ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को 22 जून को लिखे पुष्टि पत्र में दी है।

यह भी पढ़े.. VIDEO: ज्योतिरादित्य सिंधिया-नरोत्तम मिश्रा की हाई टी डिप्लोमेसी, क्या है इस मुलाकात के मायने!

वर्ल्ड बुक ऑफ रिकार्ड, भारत के प्रेसीडेंट  संतोष शुक्ला ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) को भेजे पुष्टि पत्र में कहा कि मध्य प्रदेश द्वारा टीकाकरण (vaccination) में बनाये गये रिकार्ड को रिकार्ड बुक में शामिल करने पर संस्था को प्रसन्नता है। पुष्टि पत्र में वर्ल्ड रिकार्ड संबंधी प्रमाण-पत्र से सम्मानित करने के लिये मुख्यमंत्री चौहान की सहमति और दिनांक आदि भेजने के लिये भी अनुरोध किया है।

इस मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि वैक्सीनेशन केवल मध्य प्रदेश सरकार (MP Government) का ही नहीं जनता का भी अभियान है। केवल राजनैतिक दल नहीं इस अभियान में पूरी जनता जुटी थी। सामाजिक कार्यकर्ता, स्वयं सेवी संस्थाएँ और विशेषज्ञ सब इस अभियान में जुटे थे। सब ने मिलकर इसे सफल बनाया है। जनता के हित में इस तरह के कार्यक्रम जनता के सहयोग से ही सफल हुए।

यह भी पढ़े.. Strawberry Moon 2021: गुरुवार को आसमान में दिखेगा स्ट्रॉबेरी मून, जानें इसका रोचक रहस्य

चिकित्सा शिक्षा मंत्री  विश्वास कैलाश सारंग ने कहा है कि 21 जून से मध्य प्रदेश सरकार का टीकाकरण महा-अभियान शुरू हुआ है। सप्ताह में 4 दिन सोमवार, बुधवार, गुरुवार और शनिवार को कोविड टीकाकरण होता है। रविवार को पूरे प्रदेश में अवकाश रहता है। रविवार 20 जून और मंगलवार 22 जून को मध्य प्रदेश में वैक्सीनेशन-डे नहीं थे।16 जनवरी को वैक्सीनेशन का प्रोग्राम जारी किया गया था। तब से ही सप्ताह में 4 दिन वैक्सीनेशन हो रहा है, जिसमें क्रमबद्ध तरीके से हेल्थ वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर, 45 आयु के ऊपर के नागरिक और फिर 18 से 45 वर्ष आयु वर्ग को शामिल किया गया।

मंत्री  विश्वास कैलाश सारंग  (Medical Education Minister Vishwas Sarang)  ने कहा कि साइंटिफिक तरीके से प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) ने वैक्सीनेशन कार्यक्रम को तैयार किया था और मध्य प्रदेश सरकार ने जनवरी में कोविड वैक्सीनेशन कार्यक्रम की घोषणा की थी। उसी हिसाब से वैक्सीनेशन ड्राइव चलाई गई। रविवार 20 जून को मध्य प्रदेश सरकार का कोई वैक्सीनेशन प्रोग्राम नहीं था। इसी प्रकार 22 जून को भी शासकीय संस्थाओं में वैक्सीनेशन नहीं किया गया।

यह भी पढ़े.. VIDEO: कभी लाल बत्ती तक न लगाने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया इस बार दिखें भारी सुरक्षा में

सारंग ने कहा किप्रायवेट सेक्टर की संस्थाओं द्वारा सुविधा अनुसार लोगों का टीकाकरण इस दिन किया गया है। टीकाकरण महा-अभियान में 21 जून को 16 लाख 95 हजार 562 लोगों को वैक्सीन लगाई गई, जो एक रिकार्ड है। आज 23 जून को वैक्सीनेशन-डे के दिन शाम 5.30 बजे तक 10 लाख 38 हजार लोगों ने वैक्सीन लगवाई। आज भी मध्यप्रदेश अव्वल है और 21 जून को भी था। वैक्सीनेशन महा-अभियान का श्रेय मध्य प्रदेश की जनता को जाता है।

मध्य प्रदेश