VIDEO: रोक के बाद आज बैंड की धुन पर शुरु हुआ वंदेमातरम्, CM बोले-देशभक्ति का पाठ ना पढ़ाए BJP

vande-mataram-sung-for-first-time-after-ban-in-madhya-pradesh

भोपाल।

रोक के बाद आज पहली बार नए स्वरुप में वंदेमातरम् गाया गया। पहले शौर्य स्मारक से वल्लभवन तक पुलिस ने बैंड बजा कर पैदल मार्च निकाला।इसके बाद मंत्रालय पहुंचकर यहां वंदेमातरम् गाया गया।साथ ही राष्ट्रगीत भी गाया गया। इस दौरान सरकारी अधिकारियों – कर्मचारियों के साथ मुख्यमंत्री कमलनाथ, जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा और खेल मंत्री जीतू पटवारी, सहकारिता मंत्री गोविंद सिंह मौजूद रहे।बता दे कि कमलनाथ सरकार के आने के बाद आज पहली बार मंत्रालय में बैंड की धुन पर वंदेमातरम् गाया गया।

वंदेमातरम् के बाद मीडिया से चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भाजपा पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि हमने वंदे मातरम् गायन को एक नए स्वरूप में प्रारंभ किया है। जब हमने वंदेमातरम् गायन को नए स्वरूप में लागू करने की घोषणा की थी, तब भाजपा उन्हें देशभक्ति का पाठ पढ़ा रही थी।  जिस दल ने आजादी के आंदोलन में हिस्सा नहीं लिया, वो हमें देशभक्ति का पाठ पढ़ाने चला है। देशभक्ति हमारे रग रग में है। इसके लिए हमें किसी के प्रमाणपत्र की आवश्यकता नहीं है।  

दरअसल, मुख्यमंत्री कमलनाथ ने नए साल की पहली तारीख को 13 साल से चली आ रही वन्दे मातरम्प गायन की परंपरा को बंद कर दिया था। जिसको लेकर काफी बवाल हुआ।विपक्ष की भूमिका निभा रही बीजेपी ने सड़कों पर उतरकर जमकर प्रदर्शन किया और सरकार को आंदोलन की चेतावनी तक दे दी। बढते विवाद को देखते हुए कमलनाथ सरकार ने इस पर यू-टर्न लिया और इसे नए स्वरुप में गाने का फैसला लिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब हर महिने की एक तारीख को वंदेमातरम् बैंड की धुन पर गाया जाएगा।इस दौरान प्रदेश के लोग भी इसमें शामिल होंगें। पुलिस पैदल मार्च कर मंत्रालय तक पहुंचेगी। जिसके चलते आज एक फरवरी को वंदेमातरम् गाया गया।आज कमलनाथ सरकार द्वारा पहली बार देश भक्ति की धुनों पर राष्ट्र गीत और राष्ट्रगान गाया।इस दौरान पुलिस बैंड ने शौर्य स्मारक से मंत्रालय तक पैदल मार्च किया। यहां मप्र पर्यटन विकास निगम द्वारा एक पुस्तक प्रदर्शनी भी लगाई गई।