Viral Video : परिवहन विभाग में भ्रष्टाचार, ड्राइवरों से दुर्व्यवहार

Transport Department MP : मध्य प्रदेश के परिवहन विभाग में भ्रष्टाचार का एक वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में सेंधवा के बालसमंद नाके में पदस्थ परिवहन विभाग के कर्मी बाहर से आने वाले ट्रक ड्राइवरों से दुर्व्यवहार करते नजर आ रहे हैं। ड्राइवरों से जो अवैध मांग की जा रही है उसे लेकर ड्राइवर भी उत्तेजित हो रहे हैं।

चरम पर भ्रष्टाचार

केंद्र सरकार की तमाम हिदायतों के बाद भी परिवहन विभाग में भ्रष्टाचार चरम पर है। दरअसल इस विभाग में अभी भी 30 से ज्यादा चेकपोस्ट हैं जिन से गुजरने वाले व्यावसायिक वाहनों से जमकर वसूली की जा रही है। इसे लेकर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी तक सख्त टिप्पणी कर चुके हैं और राज्य सरकार को इस बारे में पत्र भी लिख चुके हैं लेकिन अवैध वसूली रुकने का नाम नहीं ले रही।

खुलेआम मांगी जा रही रिश्वत

अब एक वीडियो वायरल हो रहा है जो सेंधवा के बालसमंद नाके का है। इस वीडियो में नाके पर पदस्थ परिवहन विभाग कर्मी और ड्राइवरों के बीच जमकर बहस हो रही है। ड्राइवर रिश्वत के रूप में 500 रु देने की बात कह रहा है जबकि और ज्यादा मांग की जा रही है। इसे लेकर काफी तू समय में हुई और गाली गलौज तक बात आ गई।

कार्यवाही न होने पर अध्यक्ष का मुख्यमंत्री को पत्र

लोगों का कहना है कि यह आए दिन की बात है और इस तरह की घटनाएं न केवल मध्यप्रदेश की छवि को बिगाड़ नहीं है बल्कि बाहर से आने वाले ट्रक ड्राइवरों के मन पर मध्य प्रदेश में आने के नाम से ही खौफ पैदा कर रही है। हैरत की बात यह है कि इस तरह के मामले आयुक्त संजय कुमार झा और मंत्री गोविंद राजपूत की जानकारी में होने के बाद भी अब तक दोषियों पर कोई कार्यवाही नहीं की गई है।अभी हाल ही में इंदौर ट्रांसपोर्ट और ट्रक एसोसिएशन के अध्यक्ष सीएल मुकाती ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा था और इसमें बालसमंद में पदस्थ परिवहन विभाग के प्रभारी पर. कार्यस्थल पर न रहने के संगीन आरोप लगाते हुए निजी गुंडों के द्वारा वसूली का संगीन आरोप भी लगाया गया था। बावजूद इसके अब तक इस मामले में भी कोई कार्यवाही नहीं हुई है।