सत्याग्रह से उठी आवाज, नहीं डरेंगे, लड़ते रहेंगे, ये देश हमारा, हम यहीं रहेंगे….!

भोपाल। राजधानी भोपाल में दो दिन पहले लागू की गई धारा 144 निषेधाज्ञा के असर से इक़बाल मैदान में जारी सत्याग्रह बेअसर दिखाई दे रहा है। हर शाम यहां जुटने वाले सैकड़ों युवाओं की एक ही पुकार है, नहीं डरेंगे, लड़ते रहेंगे, ये देश हमारा, हम यहीं रहेंगे….!

एक जनवरी से जारी सत्याग्रह 13वें दिन भी जारी रहा। यहां पहुंचने वाले युवाओं की तादाद में पहले से ज्यादा बढ़ोतरी होती दिखाई दे रही है। जबकि यहां प्रदर्शन को लेकर राजधानी पुलिस ने रविवार को करीब सौ से ज्यादा लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की बात कही है। सोमवार को यहां सत्याग्रह पर डटे युवाओं ने कहा कि एक ही प्रदेश में दो तरह के कानून कैसे लागू किए जा सकते हैं। रविवार को ही प्रदेश के इंदौर शहर में भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने बिना अनुमति एक बड़ी रैली निकाली है। पुलिस ने न तो उन्हें रोका और न ही उनके खिलाफ कोई कार्यवाही की है। ऐसे में शांतिपूर्ण तरीके से सत्याग्रह करने जुट रहे युवाओं के खिलाफ पुलिस द्वारा कार्यवाही किया जाना पूरी तरह भेदभाव की मिसाल है। उन्होंने कहा कि जिस मकसद को लेकर ये सत्यग्रह किया जा रहा है, वह काले कानून को वापस लिए जाने के ऐलान तक जारी रहेगा। उन्होंने बताया कि अगले कुछ दिनों में इस सत्याग्रह में डॉक्टर, वकील, बुद्धिजीवी वर्ग के कई लोग समर्थन के लिए पहुंचने वाले हैं।