सिंधिया के BJP में शामिल होने पर क्या बोले दिग्गज नेता अमर सिंह, देखें वीडियो

भोपाल।दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया(jyotiraditya scindia) के बीजेपी(bjp) में शामिल होने के बाद से ही सियासी गलियारों में खलबली मची हुई है। बयानबाजी का दौर तेजी से चल रहा है। कोई उनके इस फैसले का विरोध तो कोई खुलकर समर्थन कर रहा है।इसी बीच समाजवादी पार्टी (samajwadi party) के कद्दावर नेता रहे अमर सिंह(amar singh) का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें उन्होंने सिंधिया के फैसले का स्वागत किया है। वीडियो में उन्होंने ‘आत्मसम्मान से बढ़कर कुछ भी नही’ का कैप्शन दिया है ।

यह वीडियो उन्होंने अपने फेसबुक पेज (facebook page)पर शेयर किया है और भारतीय जनता पार्टी(bjp), सिंधिया, पीएम मोदी(pm modi), गृहमंत्री अमित शाह(home minister amit shah) और कांग्रेस नेता राहुल गांधी (congress leader rahul gandhi) समेत कई दिग्गज नेताओं को टैग भी किया है।वीडियो में अमर सिंह ने सिंधिया राजघराने के इतिहास का जिक्र किया है। साथ ही सभी को होली की बधाई दी है।वीडियो के माध्यम से अमर सिंह ने कहा कि सिंधिया परिवार से उनके बहुत पुराने संबंध रहे है।सब जानते है कि राजमाता सिंधिया और बेटे माधवराव को क्यो कांग्रेस छोड़ना पड़ा। ज्योतिरादित्य ने पिता के पदचिन्हों पर चलकर 18 सालों तक कांग्रेस की सेवा की । कांग्रेस ने उन्हें मंत्री बनाया जिसका उन्होंने अपने इस्तीफे में जिक्र किया है और सोनिया गांधी को धन्यवाद भी दिया है।

आगे अमर सिंह ने मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव का जिक्र करते हुए कहा है कि यह चुनाव सिंधिया के चेहरे को आगे रख कर लड़ा गया। लेकिन उन्हें मिला क्या।पहले सीएम कमलनाथ(kamalnath) और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह(digvijay singh) ने माधवराव को भी मुख्यमंत्री बनने से रोका और अब ज्योतिरादित्य को भी।जैसे दादी राजमाता सिंधिया ने अपना आत्मसम्मान बचाने के लिए कांग्रेस छोड़ी वैसी ही ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी मजबूर होकर इस्तीफा देना पड़ा।वही कांग्रेस नेताओं की बयानबाजी पर अमर सिंह ने कहा जो 18 सालों तक जिस कांग्रेस को सिंधिया में से कोई बुराई नही नजर आती थी अब सबको खटकने लगे है राजनीति का ये आचरण ठीक नही।दरवाजे बंद हो चलेगा लेकिन खिडकिया और रोशनदान हमेशा खुले होना चाहिए। आखरी में उन्होंने दो पक्तियां कही है जो इस प्रकार है-तुम्हें ग़ैरों से कब फ़ुर्सत हम अपने ग़म से कम ख़ाली , चलो बस हो चुका मिलना न तुम ख़ाली न हम ख़ाली ।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here