Wheat-procurement-at-support-price-from-March-25

भोपाल। प्रदेश में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर सरकार 25 मार्च से खरीदी करेगी। इसके लिए अभी तक 11 लाख से ज्यादा किसानों ने पंजीयन कराया है। पंजीयन का यह काम 14 मार्च तक चलेगा। 20 मार्च तक इनके रकबे और संभावित उपज का सत्यापन कराया जाएगा। किसानों की रूचि के कारण पंजीयन की अंतिम तिथि बढ़ाकर 14 मार्च कर दी गई है। रबी फसलों के विक्रय के लिये ऑनलाइन पंजीयन के लिये 2801 केन्द्र बनाये गये है। केन्द्रों पर 28 फरवरी तक 11 लाख 97 हजार किसानों द्वारा विभिन्न फसलों के लिये पंजीयन करवाया गया है।

खाद्य नागरिक आपूर्ति विभाग के अधिकारियों ने बताया कि रबी फसलों में इस बार गेहूं, चना मसूर और सरसों की खरीदी न्यूनतम समर्थन मूल्य पर होनी है। इसके लिए किसानों का पंजीयन करने दो हजार 801 ऑनलाइन पंजीयन केंद्र बनाए गए हैं। अभी तक 11 लाख 97 हजार किसानों ने पंजीयन करा लिया है। इसमें गेहूं के लिए 11 लाख नौ हजार, चना बेचने तीन लाख तीन हजार, मसूर दाल के लिए 63 हजार पांच सौ और सरसों के लिए 11 हजार से ज्यादा किसानों ने पंजीयन कराया है। खरीदी के लिए केंद्रों का निर्धारण पंजीयन होने के बाद होगा।

आयुक्त खाद्य श्रीमन शुक्ला ने बताया कि इस बार किसानों को उपज का भुगतान सीधे उनके खाते में होगा। समिति सत्यापन का काम करेगी। गोदाम स्तर पर खरीदी केंद्र बनाने को प्राथमिकता दी जाएगी, ताकि परिवहन आदि में परेशानी न हो। इसके साथ ही किसानों की सहूलियत को भी ध्यान में रखा जाएगा।