जब राहुल ने गौर को दिया कांग्रेस मे आने का ऑफर

When-Rahul-gave-Gaur-to-come-to-Congress

भोपाल

भाजपा के वरिष्ठ नेता बाबूलाल गौर मध्यप्रदेश के एक कद्दावर नेता है। राजनीति में गौर का सिक्का आज भी चलता है। उनके हमेशा से विपक्षी पार्टियों से भी अच्छे संबंध रहे है।इन्ही मधुर संबंधों के चलते सोमवार को वे मुख्यमंत्री कमलनाथ के शपथ ग्रहण सामरोह में पहुंचे। इस दौरान उन्हें सभी विपक्षी नेताओं से गर्मजोशी के साथ मुलाकात की। वही नेताओं ने भी उन्हें आदर-सम्मान दिया। इसी बीच पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने गौर की मुलाकात मंच पर बैठे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से भी कराई।इस दौरान दोनों के बीच काफी बातचीत हुई। बातों बातों में राहुल ने उन्हें पार्टी में शामिल होने का ऑफर दे दिया। हालांकि गौर ने इस पर जवाब नही दिया और मुस्कुरा दिए।

बातचीत के दौरान राहुल गांधी ने गौर से कहा कि आप हमारी पार्टी में आ जाओ। इस पर गौर ने कुछ नही कहा और मुस्कुरा भर दिए। वहीं, बाबूलाल गौर और सिंधिया के बीच भी दिलचस्प संवाद हुआ। मुलाकात के दौरान गौर ने सिंधिया से कहा कि आप तो अर्जुन हो गए हो, सिंधिया ने भी जवाब देते हुए कहा, आप के रास्ते पर चल रहा हूं। 

बताते चले कि यह कोई पहला मौका नही था गौर अक्सर विपक्ष के नेताओं के साथ मंच साझा करते रहे है। बीते महिनों ही उन्हें दिग्विजय और कमलनाथ के साथ मंच साझा किया था। एक कार्यक्रम में उन्होंने कमलनाथ की भी तारिफ की थी। उन्होंने उनके छिंदवाड़ा मॉडल को काफी सराहा था।हाल ही में उन्होंने कांग्रेस विधायक आऱिफ अकिल से मुलाकात की थी, जिसने सियासत गर्मा दी थी।

गौर ने शिवराज से बनाई दूरी

वही शपथ ग्रहण समारोह के दौरान मंच मौजूद बाबूलाल गौर ने शिवराज से दूरी बनाए रखी। वे ना तो उनसे मिले और ना ही बातचीत की। कार्यक्रम के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर दिग्विजय सिंह का हाथ पकड़े हुए मंच पर पहुंचे। वहां शिवराज सिंह भी थे। लेकिन, बाबूलाल गौर न शिवराज से मिले और न ही हाथ मिलाया। यही नहीं, शुरुआत में दिग्विजय सिंह ने भी शिवराज से मुलाकात नहीं की। वह बाबूलाल का हाथ पकड़कर आगे ले गए। लेकिन बाद में दिग्विजय सिंह भी मंच पर शिवराज से मिले और अन्य नेताओं के साथ ठहाके लगाए।