व्हिसल ब्लोअर डा. आनंद राय भोपाल कोर्ट में पेश

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के बहुचर्चित व्यापमं घोटाले के व्हिसल ब्लोअर डा. आनंद राय को भोपाल क्राइम ब्रांच ने शुक्रवार दोपहर कोर्ट में पेश किया।  गुरुवार को ही क्राइम ब्रांच की टीम ने दिल्ली की एक होटल से डा. आनंद राय को  हिरासत में ले लिया था। डा. आनंद राय दिल्ली गए और उसी दिन उन्हे सुप्रीम कोर्ट जाना था मगर उससे पहले ही उन्हे गिरफ्तार कर लिया गया। शुक्रवार सुबह पुलिस उन्‍हें भोपाल लेकर आई। दोपहर में डॉ आनंद राय को क्राइम ब्रांच ने कोर्ट में पेश किया।

यह भी पढ़ें… इन कर्मचारियों पर हो सकती है बड़ी कार्रवाई, तैयार की जा रही है लिस्ट, भत्ते में होगी कटौती!

कोर्ट परिसर में भी आनंद राय ने साफ कहा कि हम डरने वाले लोग नहीं हैं। यह पूरी कार्रवाई मुुख्‍यमंत्री कार्यालय के इशारे पर कार्रवाई हो रही है। मैं सुप्रीम कोर्ट में मामले को लगाने गया था, वहीं से पुलिस ने हिरासत में लिया गया। गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले व्यापामं की परीक्षा को लेकर स्क्रीनशॉट वायरल हुआ था जिसमें  डा. राय और  प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता के के मिश्रा ने आरोप लगाया था कि यह स्क्रीनशॉट मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान के ओएसडी मरकाम के मोबाईल फोन के है और पेपर परीक्षा से पहले ही उन तक पहुँच गया था, जिसके बाद ओएसडी लक्ष्मण सिंह मरकाम ने डॉ राय और के के मिश्रा के खिलाफ राजधानी भोपाल के अजाक थाने में एट्रोसिटी एक्ट के तहत मामला दर्ज करवाया था, उसी मामलें में क्राइम ब्रांच ने दोनों आरोपितों को नोटिस जारी किया था, लेकिन दोनों ही जवाब देने नहीं पहुंचे थे। इसके बाद पुलिस उनकी तलाश में जुट गई थी और गुरुवार को डॉ राय को दिल्ली से गिरफ्तार किया था।  वही दूसरी तरफ़  स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने भी डॉ आनंद राय के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई की है। इंदौर के हुकुमचंद चिकित्‍सालय में चिकित्‍सा अधिकारी के रूप में पदस्‍थ आनंद राय विगत 29 मार्च को स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के अधिकारियों के औचक निरीक्षण के दौरान ड्यूटी से नदारद मिले थे। इसके अलावा स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने डा आनंद राय द्वारा इंटरनेट मीडिया पर शासन,प्रशासन के अधिकारियों के खिलाफ टिप्‍पणियाें को भी अमर्यादित आचरण माना है। जिसके बाद विभाग ने UN