घटिया खाद-बीज बेचने वालों पर गिरी गाज, आठ दिन में 429 प्रकरणों में कार्यवाही

भोपाल। प्रदेश में अमानक स्तर के खाद, बीज और कीटनाशकों के निर्माण और विक्रय पर प्रतिबंध लगाने के लिए किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग द्वारा प्रदेशव्यापी सघन जांच अभियान चलाया जा रहा है। विगत 15 नवम्बर से जारी इस अभियान में पिछले 8 दिनों में 4987 उर्वरक गोदामों, विक्रताओं, उर्वरक निर्माण इकाईयों, बीज गोदामों/ विक्रेताओं और कीटनाशक दवाओं के गोदामों का सघन निरीक्षण किया गया। जाँच दलों ने निरीक्षण के दौरान कुल 3678 नमूने इकठ्ठे किए और 429 प्रकरणों में अनियमितता की कार्यवाही की।

जानकारी के अनुसार अभियान के दौरान पिछले 8 दिनों में 2192 उर्वरक गोदामों और विक्रेताओं के ठिकानों का निरीक्षण कर 1720 नमूने लिये गए और 189 प्रकरणों में अनियमित्ता की कार्यवाही की गई। उर्वरक निर्माण की 10 इकाईयों का निरीक्षण कर एक प्रकरण में अनियमित्ता की कार्यवाही की गई। इसी तरह, 2115 बीज गोदामों और विक्रेताओं के ठिकानों की जाँच कर 1651 नमूने लिये गए और 102 प्रकरणों में अनियमित्ता की कार्यवाही की गई। कीटनाशक दवाओं के 670 गोदामों का निरीक्षण कर 296 नमूने लिये गए और 127 प्रकरणों में अनियमित्ता की कार्यवाही सुनिश्चित की गई।

कड़ी कार्रवाई होगी

कृषि मंत्री सचिन यादव ने कहा है कि प्रदेश को अमानक स्तर के खाद, बीज और कीटनाशकों से मुक्त प्रदेश बनाया जाएगा। जांच में किसानों के हित में उन्हें गुणवत्तापूर्ण खाद बीज और कीटनाशक दवाएँ उपलब्ध कराने के लिये शुद्ध के लिये युद्ध है। अभियान 30 नवंबर तक चलेगा, जो भी पकड़ा जाएगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई हेागी।