आईपीएस अफसरों की मीटिंग में क्यों हैरान हुए CM कमलनाथ

Why-cm-surprised-in-meeting-of-IPS-officers-in-phq-bhopal

भोपाल| मध्य प्रदेश में सत्ता बदलने के साथ ही नए बदलाव देखने को मिल रहे हैं| नई सरकार में अधिकारियों की जमावट होनी है| मुख्यमंत्री कमलनाथ ने दो टूक कहा है कि लम्बे समय से एक ही जगह जमे अफसर हटाए जाएंगे|  सीएम बुधवार को पुलिस मुख्यालय पहुंचे, जहां उन्होंने आईपीएस अधिकारियों के साथ बैठक की| इस दौरान कमलनाथ हैरान हो गए, मीटिंग में अधिकारियों का परिचय जानते समय सीएम हैरान हो गए। जब उनका परिचय दो आईपीएस अधिकारी संजय राणा और पवन जैन से हुआ, यह साढे सात साल से एक ही स्थान पर पोस्टेड हैं| 

बता दें कि संजय राणा पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन के प्रबंध संचालक हैं, वहीं पवन जैन एडीजी, प्लानिंग शाखा हैं| बैठक के बाद मीडिया से चर्चा में कमलनाथ ने साफ़ कहा कि सालों से एक ही जगह जमे रहने की जो प्रथा है वह समाप्त होगी| उन्होंने कहा कि योग्यता के आधार पर अधिकारियों की पोस्टिंग की जायेगी, वहीं उन्होंने यह भी कहा कि जरूरी नहीं है कि डीजीपी की हर बात से सहमत हूँ। मैं चाहता हूं कि अफसरों को उनकी क्षमता के आधार पर ही पोस्टिंग मिले। किसी की पंसद से पोस्टिंग अब नहीं दी जाएगी। 

उन्होंने कहा कि बैठक में मैंने अधिकारियों से प्रजेंटेशन लिया है। अपने प्रदेश की छवि सबसे पहले पुलिस विभाग से बनती है। यही पुलिस अधिकारियों से मैंने चर्चा की है कि अच्छी छवि कैसे बने? इसी के बारे में मैंने अफसरों से चर्चा की है। हर विभाग की  जानकारी ली है और कहा है कि सबसे बड़ी चीज है कि ऊपर से लेकर नीचे तक प्रेणित पोस्ट होनी चाहिए। । यही हमारी प्रथामिकता है। कुछ पुलिस ऑफिसर्स 7 साल या 5 साल से एक ही जगह टिके हुए हैं। ये प्रथा मैं ख़त्म करना चाहता हूँ। क्षमता के आधार पर उनको पोस्ट मिले ये नहीं की ये मेरी पसंद का है वो मेरी पसंद का है।