महिलाओं की होगी राशन वितरण व्यवस्था में भागीदारी, हर पंचायत में खुलेगी दुकान

Women's-groups-will-participate-in-ration-distribution-system

भोपाल। खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर ने कहा है कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी। इसके लिए 1461 महिला स्व-सहायता समूहों को राशन दुकानें आवंटित की गई हैं।

तोमर ने कहा कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत प्रदेश के 5 करोड़ 46 लाख हितग्राहियों को 24 हजार 713 दुकानों के माध्यम से सस्ता राशन उपलब्ध कराया जा रहा है। राज्य सरकार का प्रयास है कि प्रत्येक ग्राम पंचायत में राशन दुकान अनिवार्य रूप से खोली जाए। उन्होंने बताया कि गत वर्ष तक प्रदेश में 5199 ग्राम पंचायतों में राशन दुकानें नहीं थी। पिछले गत 7 माह में 2499 ग्राम पंचायतों में नवीन दुकानें खोली गई हैं। इनमें से 1461 दुकानों के संचालन का दायित्व महिला स्व-सहायता समूहों को सौंपा गया है। शेष ग्राम पंचायतों में अक्टूबर माह तक दुकानें खोली जाएंगी। प्र्रदेश में सार्वजनिक वितरण प्रणाली द्वारा प्रतिमाह 2 लाख 23 हजार मेट्रिक टन गेहूँ, 74 हजार मेट्रिक टन चावल,16 हजार 400 किलोग्राम शक्कर, 11हजार 529 क्विंटल आयोडाईज नमक, 40 हजार 793 मेट्रिक टन दलहन और 19 हजार 538 किलो लीटर केरोसीन का वितरण किया जाता है।