खाकी पर अड़ीबाजी का आरोप, परेशान युवक ने खाया जहर

youth-eaten-poison-seriously-allegation-on-police-

भोपाल। राजधानी पुलिस लगातार दागदार होती जा रही है। कमला नगर में मासूम से रेप और हत्या के बाद में लापरवाही के आरोप में सात पुलिस वालों को सस्पेंड किया गया था। हाल ही में क्राइम ब्रांच पर एक चोर ने दो किलो सोना हड़पने के गंभीर आरोप लगाए थे। अब कोतलवाली पुलिस पर 25 हजार रूपए के लिए अड़ीबाजी करने का आरोप लगा है। युवक को रकम नहीं देने के एवज में चोरी के मामले में फंसाने की धमकी दी जा रही थी। जिससे तंग आकर उसने बीती रात जहर खा लिया। वहीं युवक को मौत के मुह तक पहुंचाने वाली पुलिस खुदकुशी के प्रयास को अफवाह बता रही है।

जानकारी के अनुसार बीते दिनों कोतवाली पुलिस ने ऐशबाग जनता कॉलोनी से तीन नाबालिग वाहन चोरों को पकड़ा था। जिनके कब्जे से चोरी के पांच दो पहिया वाहन बरामद किए गए हैं। आरोपियों को आज न्यायालय में पेश किया जाएगा। बताया जा रहा है कि इन आरोपियों ने एक अन्य साथी शाहरूख के पास में चोरी की गाड़ी होने की जानकारी पुलिस को दी थी। शाहरूख भी ऐशबाग का निवासी है। एक आरोपी ने अल्ताफ निवासी ऐशबाग पर चोरी के वाहन रखने की जानकारी पुलिस को दी थी। पुलिस ने अल्ताफ को उठा लिया था। उससे चोरी के वाहनों की जानकारी मांगी गई। अल्ताफ ने पुलिस को बताया कि शाहरूख ने बीते दिनों उसे कॉल कर बोला था कि गाड़ी का पेट्रोल खत्म हो गया है। लात लगाकर पेट्रोल टेंक तक पहुंचाने के लिए मदद मांगी थी। अल्ताफ ने दोस्ती के नाते गाड़ी को लात लगाकर अन्य बाइक से पेट्रोल टेंक तक टोह किया था। इस जानकारी के बाद में पुलिस ने अल्ताफ पर शाहरूख को पकड़वाने का दबाव डाला। सुनयोजित तरीके से कॉल कराकर अल्ताफ के भाई के जरिए भोपाल टॉकीज पर कल शाम को शाहरूख को बुलाया। पुलिस के आठ जवान शाहरूख को पकडऩे के लिए भोपाल टॉकीज चौराहा पर पहुंचे। जहां संदेह होने के बाद में शाहरूख मौके से चोरी की एक्टिवा वाहन छोड़कर फरार हो गया। 

– यह लग रहे आरोप

अल्ताफ के परिजनों का आरोप है कि शाहरूख के भागने के बाद में अल्ताफ को चोरी के प्रकरण में फंसाने का पुलिस ने दबाव डाला। अल्ताफ इलेक्ट्रीश्यिन है, रोजनदारी की कमाई से गुजारा करता है। पुलिस ने किसी दलाल के जरिए अल्ताफ के भाई को इस बात की खबर की। भाई को बचाने के एवज में 25 हजार रूपए की मांग की गई। रकम देने से इनकार करने पर बीती रात पुलिस अल्ताफ के मोहल्ले में पहुंची, जहां उसके परिचितों से अल्ताफ की जानकारी मांगी। जिससे घबराकर अल्ताफ ने जहर खा लिया। परिजनों ने उसे पहले हमीदिया अस्पताल पहुंचाया। जहां हड़ताल के चलते इलाज नहीं मिलने पर अशोका गार्डन स्थित वैधांता अस्पताल में भर्ती करा दिया। जहां उसकी हालत नाजुक बताई जा रही है। 

इनका कहना है

चोरों ने पूछताछ में अल्ताफ पर चोरी के वाहन रखने की जानकारी दी थी। हालांकि उसके घर कोई छापा मारी नहीं की गई। उसकी भुमिका भी साफ नहीं हो सकी थी। बीती रात पुलिस टीम उसकी जानकारी जुटाने ऐशबाग पहुंची थी। कुछ देर बाद में किसी ने अफवाह उड़ा दी की अल्ताफ ने जहर खा लिया है। हमीदिया में तजदीक कराने पर अल्ताफ नहीं मिला था। वहां कहां है इस बात की जानकारी नहीं है।

शैलेंद्र शर्मा, टीआई कोतवाली थाना