एसटीएफ की बड़ी कार्रवाई, आईपीएल सटोरिये सहित 8 लोगों को किया गिरफ्तार

मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी में क्रिकेट के सट्टे का कारोबार इन दिनों फैल रहे वायरस की तरह रोज उजागर हो रहा है।

इंदौर, आकाश धौलपुरे। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) की आर्थिक राजधानी में क्रिकेट के सट्टे का कारोबार इन दिनों फैल रहे वायरस की तरह रोज उजागर हो रहा है। दरअसल, इंदौर (indore) में इस बार एसटीएफ (STF) की टीम ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए क्रिकेट (cricket) के सटोरिये जयवंत उर्फ जयेश लंके निवासी उषा नगर सहित कुल 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से 40 मोबाइल फोन, 15 लाख रुपये नगद, एक एलईडी टीवी, लेपटॉप और करोड़ों के हिसाब किताब की पर्चियां जब्त की है। अब एसटीएफ की टीम मुख्य सरगना जयवंत उर्फ जयेश लंके सहित अन्य आरोपियों से पुछताछ में जुटी है। पूछताछ के बाद और भी बड़े खुलासे एसटीएफ की टीम कर सकती है।

जानकारी के मुताबिक इंदौर एसटीएफ की टीम ने मुखबिर की सूचना पर आईपीएल का सट्टा पकड़ा है। एसटीएफ को मुखबिर से सूचना मिली थी कि निरंजनपुर और उषा नगर के एक फ्लैट में बडे पैमाने पर आईपीएल मैच का सट्टा चलने की सूचना मिली थी। जिसके बाद एसटीएफ की दो टीमों ने दोनों ही जगह एक साथ दबिश देकर और मौके से 8 आरोपियों को गिरफ्तार कर 40 मोबाइल फोन, 15 लाख 19 हजार रुपये नगद और करोड़ो रूपये के हिसाब किताब के दस्तावेज जब्त किये है। वही उषानगर से एक एलईडी टीवी, लेपटॉप ओर अन्य उपकरण भी जब्त किये है। एसपी पश्चिम मनीष खत्री ने बताया कि आरोपियों अलग – अलग नाम से आईडी बना रखे थे और एक विशेष साफ्टवेयर के जरिये वो आईपीएल मैचो के सट्टे का बड़ा गोरखधंधा चला रहे थे। अब पुलिस आरोपियों से पुछताछ कर रही है और ये पता लगाने मे जुटी है कि क्रिकेट सटोरियों के नेटवर्क कहा जुड़े थे वही माना ये भी जा रहा है कि पूछताछ के बाद मामले में अब तक का सबसे बड़ा खुलासा हो सकता है।