नाबालिग बच्चियों के राजनैतिक दुरुपयोग पर बीजेपी ने प्रकरण दर्ज करने की मांग की, कांग्रेस पर दागे कई सवाल

उपचुनाव की सबसे प्रतिष्ठित सीट सांवेर के चंद्रावतीगंज में मंगलवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने समर्थक बीजेपी प्रत्याशी तुलसी सिलावट के लिए एक सभा को संबोधित करने पहुंचे थे। वही दूसरी ओर चंद्रावतीगंज में झांसी की रानी के भेष में कई लड़कियां घूम रही थी।

इंदौर, आकाश धौलपुरे। उपचुनाव (by election) की सबसे प्रतिष्ठित सीट सांवेर के चंद्रावतीगंज में मंगलवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindhia) अपने समर्थक बीजेपी प्रत्याशी तुलसी सिलावट (tulsi silawat) के लिए एक सभा को संबोधित करने पहुंचे थे। वही दूसरी ओर चंद्रावतीगंज में झांसी की रानी के भेष में कई लड़कियां घूम रही थी। अब इस मामले ने राजनीतिक तूल पकड़ लिया है। बीजेपी (bjp) ने इस मामले में कांग्रेस (congress) और कांग्रेस प्रत्याशी प्रेमचंद गुड्डू (premchand guddu) को जिम्मेदार बताया और कई बड़े सवाल उठाए है।

बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता ने एक वीडियो भी सामने रखा है जिसमें एक रिपोर्टर बकायदा झांसी की रानी बनी लड़कियों से बात करता है। इस दौरान बच्चियां कई राजनीतिक शब्दों का इस्तेमाल करती नजर आई। बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता उमेश शर्मा ने दावा किया कि नाबालिग स्कूली छात्राओं के जरिये कांग्रेस, बीजेपी के वरिष्ठ नेता के खिलाफ षड्यंत्र के तहत काम कर रही है। बीजेपी प्रदेश प्रवक्ता ने एंकर व रिपोर्टर को फर्जी बताते कानूनी जांच की मांग की है वही नाबालिग छात्राओं की काउंसलिंग चाइल्ड हेल्प लाइन द्वारा किये जाने की मांग की है।

दरअसल, कांग्रेस 1857 की जंग में झांसी की रानी के मामले को लेकर सिंधिया परिवार पर हमलावर है लेकिन ताजा मामले में अब सब कुछ जांच पर निर्भर है। बीजेपी ने चुनाव आयोग को शिकायत की है, वही मामले में कानूनी तौर पर कार्रवाई करने के लिए बीजेपी तैयार है।