BJP विधायक का विंध्य के लिए राजनीति का बलिदान, कहा- “चाहें तो लिखित में ले लें उनका सन्यास”

दरसल मैहर के बीजेपी विधायक विंध्य पुनर्निर्माण को लेकर लम्बे समय से अलग विंध्य प्रदेश बनाने को लेकर पिछले कई दिनों से यात्राएं कर रहे हैं। जिसको लेकर अब उनका बड़ा बयान सामने आया है।

सतना, पुष्पराज सिंह बघेल। मध्य प्रदेश में सत्ता पक्ष के राजनेता सियासत को कुछ अलग ही रंग दे रहे हैं। सतना जिले के मैहर विधायक नारायण त्रिपाठी (MLA Narayan Tripathi) जो अपनी ही सरकार को आड़े हांथो लेकर हमेशा सुर्खियों में रहे हैं। उन्होंने एक बार फिर विंध्य पुनर्निर्माण को लेकर बड़ा बयान दिया है। सतना के सर्किट हाउस में प्रेस वार्ता के दौरान उन्होंने कहा कि ‘सब लोग मिलकर विंध्य पुनर्निर्माण कर ले, इसके लिये चाहे उनसे राजनीति से सन्यास लिखवा लें।‘

ये भी पढ़ें- इन कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी, 25 फीसदी डीए बढ़ा, सैलरी में होगा बंपर उछाल

दरसल मैहर के बीजेपी विधायक विंध्य पुनर्निर्माण को लेकर लम्बे समय से अलग विंध्य प्रदेश बनाने को लेकर पिछले कई दिनों से यात्राएं कर रहे हैं। नारायण त्रिपाठी ने विंध्य क्षेत्र के निर्वाचित जनप्रतिनिधियों से आव्हान किया है कि सब मिलकर दिल्ली जाएं और अलग विंध्य प्रदेश के लंबित प्रस्ताव को पास कराकर विंध्य प्रदेश का निर्माण करें। उनका कहना है कि इसमें उनका कोई स्वार्थ नहीं है, न ही कोई श्रेय लेना है। अगर विंध्य के जनप्रतिनिधि नेता चाहें तो वो विंध्य प्रदेश के लिये मुझसे लिखित तौर पर राजनीति से सन्यास ले सकते हैं और मैं सभी पदों से इस्तीफा भी दे सकता हूं। विधायक ने कहा कि यदि विंध्य के जनप्रतिनिधि हिम्मत करें तो विंध्य अलग प्रदेश बन सकता है।

विधायक नारायण त्रिपाठी इन दिनों अलग विंध्य प्रदेश बनाने को लेकर परचम बुलंद किये है, यहां तक कि भाजपा की पार्टी लाइन से अलग हटकर भी कार्य कर रहे है, जिससे संगठन नाराज है।

ये भी पढ़ें- किसान सम्मान निधि : इन कर्मचारियों को बड़ा झटका, ऐसा ना करने पर रुकेगी वेतन वृद्धि