अतिक्रमण हटाने गए वन अमले पर हमला, 5 महिलाओं सहित 11 वनकर्मी घायल

Attack-on-forest-team-during-encroachments-destroying-action-in-burhanpur

बुरहानपुर। शेख रईस| बुरहानपुर में वन अतिक्रमण हटाने गए वन अमले पर अतिक्रमणकारियों ने हमला बोल दिया, इस हमले में 5 महिला वनकर्मियों समेत 11 घायल हो गए, आदिवासियों के उत्थान के लिए काम करने वाली संस्थाए इस कार्यवाही पर सवाल खडे कर रही है। बुरहानपुर वन परिक्षेत्र के झांझर वन बीट में वन अतिक्रमण हटाने गए वन विभाग के अमले पर आदिवासियों ने घेरकर हमला कर दिया काफी देर तक चले इस संघर्ष में गुस्साए आदिवासियों ने वनकर्मियों पर पत्थर गोफन से हमला बोल दिया इससे वन विभाग के वाहनों के शीशे फूट गए पांच महिला वन कर्मी व 6 पुरूष वनकर्मी घायल हो गए जिन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया माना जा रहा है वन विभाग पूरी तैयारी से कार्यवाही नहीं करने गया था।

उधर आदिवासियों के लिए काम करने वाली संस्थाए इस कार्यवाही पर ही सवालिया निशान लगा रही है दलित सेना व लोकजनशक्ति पार्टी नेता संजय गाढे का आरोप है वन विभाग के कथित अफसर वन माफियाओं से मिलीभगत करके वन अतिक्रमण करा रहे है और कार्यवाही के नाम पर यहां बरसों से काबिज आदिवासियों को बेदखल कर रहे है जबकि वनाधिकार कानून में साफ कहा गया है अगर किसी आदिवासी ने पट्टे के लिए आवेदन किया है तो उनकी बेदखली की कार्यवाही नहीं की जा सकती उन्होने सरकार से मांग की है नियमानुसार सर्वे कराया जाए यदि जंगल में रहे रहे आदिवासियों ने पट्टों के लिए दावा पेश किया है तो कार्यवाही नहीं की जाए और जो अवैध रूप से जंगल में रह रहे है उन्हें बेदखल किया जाए।