धार्मिक शोहर्द की मिसाल बना “मस्जिद परिचय” सभी धर्मों के लोगो सहित जनप्रतिनिधियों-अधिकारियों ने की सराहना

180

शेख रईस बुरहानपुर।

बुरहानपुर में साम्प्रदायिक सौहार्द की मिसाल देखनो को जिसका आयोजिन मुस्लिम समाज के जिम्मेदारों द्वारा किया गया जिसका मक़सद था अन्य धर्मों के अनुयायियों को मुस्लिम धर्म के पवित्र स्थल मस्जिद और उसमें पढ़ाने वाली नमाज के बारे में आम लोगो को रूबरू करवाना था। 

स्थानीय ताना गुज़री मस्जिद अंडा बाजार में मुस्लिम समाज बुरहानपुर के तत्वधान में रविवार  3 नवंबर को सुबह 11 बजे से दोपहर 3 बजे बुरहानपुर में विभिन्न धर्म एवं समुदाय में आपसी भाईचारा एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण स्थापित करने के उद्देश्य से मस्जिद परिचय नामक कार्यक्रम संपन्न हुआ। कार्यक्रम में पुर्व विधायक द्वय हामिद काज़ी,रविंद्र महाजन, शिवसेना के इंदौर संभाग के अध्यक्ष पंडित आशीष शर्मा, नगर पालिक निगम बुरहानपुर के अध्यक्ष मनोज तारवाला, अधिवक्ता मनोज अग्रवाल, अधिवक्ता संतोष देवताले, गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी बुरहानपुर के अध्यक्ष शैली कीर, कांग्रेस नेता अरुण जोशी,  सैफ़िया हमीदिया युनानी तिब्बिया कॉलेज के प्रोफेसर डाक्टर बृजमोहन रामनारायण गुप्ता,  महेश शाह, पुलिस प्रशासन के अधिकारियों में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महेंद्र तारनेकर, सीएसपी,थाना गणपति नाका प्रभारी सहित लगभग 100 अधिक लोगो ने इस कार्यक्रम में शिरकत की। प्रोग्राम में उपस्थित जनों के समक्ष मस्जिद में नमाज़ अदायगी, क़ुरआन की तिलावत आदि बातों को विस्तारपूर्वक समझाया गया। कार्यक्रम में इस्लामी लिटरेचर भी निःशुल्क वितरित किया गया।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महेंद्र तारनेकर ने इस कार्यक्रम को शहर की सुख शांति, और सौहार्द्र के लिए एक अच्छा संदेश बताते हुए कहा कि सोशल मीडिया के माध्यम से सामाजिक सद्भावना के ताने-बाने को नुकसान पहुंचाने वाले संदेशों को अपने मोबाइल से डिलेट करने और ट्रैफिक नियमों पर अमल करने की अपील की। मुस्लिम समाज बुरहानपुर द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में धार्मिक विद्वानों में मौलाना फ़ज़लुर रहमान, क़ारी याक़ूब साहब, मौलाना नदीम बेग और युवाओं में एजाज़ खान, निज़ाम अहमद, ज़हीर अहमद और इनाम अंसारी, गब्बू सेठ ने महत्वपूर्ण सहयोग और भूमिका अदा की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here