छतरपुर- सफाई महाअभियान को 100 घंटे हुए पूरे, पांचवें दिन नौगांव रोड पर चला अभियान

छतरपुर, संजय अवस्थी। शहरवासियों के सहयोग से चलाए जा रहे 18 से 24 जनवरी तक के सफाई महाअभियान को पांच दिन पूरे हो चुके हैं। इस अभियान में स्वयं कलेक्टर, एसडीएम, एसपी और सीएमओ सफाई अमले के साथ श्रमदान कर शहरवासियों को स्वच्छता का संदेश देते हुए उन्हें जागरुक कर रहे हैं।

नौगांव रोड पर चल रहे सफाई अभियान के दौरान सड़क के दोनों ओर स्थित दुकानदारों को सड़को पर कचरा न फेंकने और अपने आस-पास की जगह साफ और स्वच्छ रखने की सख्त हिदायत दी जा रही है। दुकानदारों के पास डस्टबिन न पाए जाने पर चालानी कार्रवाई भी की जा रही है। सफाई महाअभियान में शहर के सामाजिक संगठन भी बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेते हुए सफाई में हांथ बटा रहे हैं। अभी तक 10 संगठनो ने कार्यक्रम में श्रमदान कर सहभागिता की है।

कलेक्टर के साथ अन्य अधिकारी कर रहे श्रमदान, कर्मचारियों का बढ़ा रहे हाैसला
महाअभियान को सफल बनाने और लोगो को स्वच्छता के प्रति जागरुक करने प्रतिदिन रात्रि के समय प्रशासक एवं कलेक्टर शीलेंद्र सिंह, एसडीएम पियांशी भंवर, एसपी सचिन शर्मा और सीएमओ ओमपाल सिंह भदौरिया के द्वारा कार्य का निरीक्षण करते हुए स्वयं सफाई अमले के साथ फावड़ा, तसला लेकर पॉलीथिन और कचरा उठाते हुए सफाई अभियान में श्रमदान किया जा रहा है।

नौगांव रोड में की चालानी कार्रवाई
सफाई के साथ-साथ नगरपालिका टीम के द्वारा सड़क किनारे स्थित दुकानों के सामने कचरा पाए जाने पर और डस्टबिन का उपयोग न करने पर दुकान संचालकों पर चालानी कार्रवाई की गई। शुक्रवार को नौगांव रोड पर करीब 34 दुकानदारों के चालान काटते हुए 32 हजार की राशि वसूली गई। इस कार्रवाई के दौरान सीएमओ ओमपाल सिंह भदौरिया, स्वच्छता निरीक्षक संजेश कुमार नायक, आरपी तिवारी और एसएस बुंदेला, उपयंत्री महेन्द्र पटेल, विद्या पटैरिया, कुलदीप तिवारी, अरविंद तिवारी मुख्य रुप से मौजूद रहे।

शिकायतों के निराकरण के लिए टोल फ्री नंबर पर करें कॉल
नगर पालिका छतरपुर से सम्बंधित अपनी शिकायतों, सफाई कार्यों तथा परिषद से जुड़े अन्य कार्यों के समाधान के लिए नपा द्वारा टोल फ्री नम्बर की व्यवस्था की गई है। शहर का कोई भी व्यक्ति टोल फ्री नम्बर 1800233240484 पर नगर पालिका से जुड़े कार्यों से संबंधित शिकायत एवं अन्य कार्यों के लिए सम्पर्क कर सकते हैं। टोल फ्री नंबर पर प्राप्त शिकायतों का शीघ्र ही निराकरण किया जाएगा।