छतरपुर, संजय अवस्थी। गौरिहार तहसील के बरहा गांव में खुद पटवारी को एक बुजुर्ग किसान के पैसे लौटाने पड़े। कलेक्टर ने ये काम चौपाल में सबके सामने करवाया।

दरअसल बरहा गांव में कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह चौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्याएं सुन रहे थे। तभी एक बुजुर्ग किसान रामकुमार ने कलेक्टर को बताया कि उसकी जमीन नपाने के लिये पटवारी ने 4 हजार की रिश्वत ली थी। ये ऐसा सुनते ही कलेक्टर ने तुरंत पटवारी को तलब किया और बुजुर्ग किसान से रिश्वत के तौर पर लिये गए 4 हजार रूपये वहीं वापिस करवाये। अपने रूपये वापिस पाकर बुजुर्ग किसान बहुत खुश देखा गया।