पीएम आवास योजना के नाम पर सरकारी पैसा हड़पने वाले 14 लोगों पर होगी FIR, कलेक्टर ने किए आदेश

छतरपुर, संजय अवस्थी। प्रधानमंत्री आवास योजना के नाम पर भ्रष्टाचार थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब छतरपुर नगर पालिका क्षेत्र के 14 ऐसे लोगों पर एफआईआर दर्ज करने के आदेश किए गए हैं जिनके द्वारा इस योजना के अंतर्गत सरकारी पैसा ले लिया गया लेकिन मकान नहीं बनाए गए। कई मामले ऐसे हैं जहां फर्जी हितग्राहियों ने गलत दस्तावेजों के आधार पर ही राशि हड़प ली। चौंकाने वाली बात ये है कि लगभग दो साल पहले हुए इस घोटाले में अब तक नगर पालिका के उन अधिकारियों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है जिनकी जिम्मेदारी आवास के हितग्राहियों के दस्तावेजों को जांचने और मकान का भौतिक परीक्षण करने की थी।

नगर पालिका प्रशासक और कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने ऐसे मामलों की जांच के बाद शहर के 14 लोगों के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं। नगर पालिका सीएमओ ओमपाल सिंह भदौरिया ने इन फर्जी हितग्राहियों के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराने के लिए सिटी कोतवाली पुलिस और सिविल लाइन थाना पुलिस को दस्तावेज सहित एफआईआर कराने का प्रस्ताव भेजा है। उधर एक हितग्राही ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि  प्रधानमंत्री आवास योजना की ढाई लाख रूपए की राशि प्राप्त करने के लिए उसने नगर पालिका के सर्वे दल को रिश्वत के रूप में दो किश्तों में 50 हजार रूपए की राशि दी है।

इन लोगों के विरूद्ध दर्ज होगी एफआईआर
सिटी कोतवाली पुलिस को दिए गए दस्तावेजों के मुताबिक 14 हितग्राहियों के विरूद्ध एफआईआर दर्ज किए जाने की तैयारी है। इनमें सुनीता कनकने पत्नी ब्रजेश कनकने निवासी पुराना इलाहाबाद बैंक, मनीष सेन तनय राधेश्याम निवासी शुक्लाना मोहल्ला, हेमलता दुबे पत्नी सीताराम दुबे श्रीराम कॉलोनी, उमाशंकर शुक्ला तनय मुन्नीलाल शुक्ला शुक्लाना मोहल्ला, समीना रंगरेज पत्नी अफरोज रंगरेज नारायणपुरा रोड, हरप्रसाद श्रीवास पुत्र रामलाल श्रीवास बिहारी मार्ग चौक बाजार, सुधीर कुमार ताम्रकार पुत्र रामकिशोर ताम्रकार तमरयाई मोहल्ला, नीतू गिरि गोस्वामी पत्नी प्रवीण गिरि गोस्वामी सिद्धगनेशन मार्ग, गीता सिंह चौहान पत्नी अजीत सिंह चौहान विश्वनाथ कॉलोनी, भास्कर तिवारी तनय स्वामी प्रसाद तिवारी न्यू कॉलोनी, संगीता सोनी पत्नी शंकरलाल सोनी विश्वनाथ कॉलोनी, पंचमलाल अनुरागी तनय सुन्नूलाल अनुरागी विश्वनाथ कॉलोनी, मनोज कुमार गुप्ता तनय बाबूलाल गुप्ता खेरे की देवी मार्ग के निवासी हैं। इन लोगों के विरूद्ध कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने टीएल बैठक के दौरान एफआईआर के निर्देश दिए हैं।