छतरपुर, संजय अवस्थी। विश्व पयर्टक स्थल खजुराहो मे सात दिवसीय 47वें अन्तर्राष्ट्रीय डांस फेस्टिवल समारोह (khajuraho dance festival) का आगाज हो गया है। प्रदेश के पर्यटन एवं सस्कृति मंत्री उषा ठाकुर इसका शुभारंभ किया। 26 फरवरी तक चलने वाले इस नृत्य समारोह मे देश के ख्याति प्राप्त शास्त्रीय नृत्य कलाकारों ने अपनी प्रस्तुतिय दी। पहले  कार्यक्रम में गीता चन्दन एवं साथी कलाकारों ने भरतनाट्यम से लोगो की जमकर तालियां बटोरी। इसके बाद दीपक महाराज ने कथक नृत्य प्रस्तुत किया।

इस बार खजुराहो नृत्य समारोह पश्चिमी मंदिर समूह के अंदर स्थित कंदारिया महादेव मंदिर तथा देवी जगदम्बी मंदिर के बीच मंच पर निर्धारित किया गया है। इसलिए इस बार इस आयोजन खास महत्व है। इस मंच से आखिरी  समारोह 1976 में आयोजित हुआ था। प्रशासन ने इसे और भव्य बनाने के लिये पश्चिम मध्य समूह के मंदिर में एक बार फिर 44 साल बाद उसी मंच पर आयोजित किया है। पयर्टन और संस्कृति मंत्री ने बताया कि इस बार केन्द्र सरकार से पयर्टन क्षेत्र खजुराहो के विकास में ज्यादा राशि आई है जिसका इस्तेमाल खजुराहो के मास्टर प्लान मे खर्च होगा और केन्द्र सरकार और राज्य सरकार दोनों ही पयर्टन को बढ़ाने रोड कनेक्टिविटी और एयर कनेक्टिविटी को बढ़ा रही है। जो पयर्टक खजुराहो आयेंगे वे यहां के आस पास के क्षेत्र मे भी घूमे, इसका प्रयास भी सरकार कर रही है। वहीं खजुराहो के इस मंच पर प्रस्तुति देकर कलाकार अपने आपको गौरान्वित महसूस कर रहे हैं। कार्यक्रम में देश के कोने-कोने से पर्यटक भी आये हैं, जिन्होंने इस कार्यक्रम को जमकर सराहा है। इस बार कार्यक्रम के शुभारंभ के अवसर पर सीएम शिवराज सिंह चौहान शामिल नहीं हो सके हैं लेकिन उन्होने वीडियो संदेश के माध्यम से सभी कलाकारों और कार्यक्रम के लिए शुभकामनाएं दी हैं।