छतरपुर, संजय अवस्थी। 20 फरवरी से खजुराहो (khajuraho ) में होने जा रहे डांस फेस्टिवल (dance festival) में अब और रौनक देखने को मिलेगी। कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह के प्रयास से संस्कृति मंत्रालय ने आदेश जारी किया है कि इस बार डांस फेस्टिवल का कार्यक्रम पश्चिमी मंदिर समूह के अंदर चित्रगुप्त मंदिर (Chitragupta temple) के सामने होगा। लंबे समय से पुरातत्व विभाग के अड़ंगे के बाद से ये कार्यक्रम यहां नहीं होता था।

लगभग 42 साल बाद पश्चिमी मंदिर समूह के अंदर चित्रगुप्त मंदिर के सामने ये डांस फेस्टिवल होने जा रहा है। मंगलवार को कलेक्टर ने कार्यक्रम स्थल का लिया जायजा। इस दौरान कला परिषद के प्रतिनिधि एवं शिल्पग्राम के संचालक, पुरातत्व विभाग, एसडीएम डीपी द्विवेदी द्वारा पुलिस को जिम्मेदारियो के संबंध में निर्देशित भी किया गया। विगत दिनों से हड़ताल पर बैठे गाइड्स की वैधानिक मांगों को सुनकर लपका गाइडो के खिलाफ पुलिस एवं स्थानीय प्रशासन को उनके खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश भी दिए, जिससे khajuraho The Iconic City of India की भव्यता में चार चांद लग सके।  उन्होने कहा कि खजुराहो के गाइड देश के कल्चरल गाइड है, संस्कृति के संवाहक है। उनसे इस निर्देश के बाद हड़ताल पर बैठे विधिमान्य पंजीयत और शासन के अधिकृत कल्चर गाइड्स ने अपनी हड़ताल समाप्त कर दी।

Khajuraho- 42 साल बाद चित्रगुप्त मंदिर के सामने होगा डांस फेस्टिवल