शहीद बिरसा मुंडा का जीवन देता है अपनत्व की प्रेरणा: शीलेन्द्र सिंह

बिरसा मुंडा जयंती पर जिला प्रशासन की ओर से शहर के ऑडिटोरियम में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया

छतरपुर, संजय अवस्थी| महान शहीद जननायक बिरसा मुंडा की जयंती के अवसर पर जिला प्रशासन की ओर से शहर के ऑडिटोरियम में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम के माध्यम से स्वतंत्रता सेनानी राजाराम सिंह को सम्मानित किया गया। वहीं कालाकारों ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया। इसके अलावा कालाकारों ने बिरसा मंडा के जीवन से जुड़ी घटनाओं को गीतों के माध्यम से लोगों तक पहुंचाया। कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने कहा कि शहीद बिरसा मंडा के जीवन से अपनत्व की भावना सीखें। आज चारों तरफ शासकीय और सार्वजनिक संपत्तियों का नुकसान किए जाने की घटनाएं सामने आती हैं लेकिन हमें यह समझना होगा कि यह संपत्ति हमारी है इसलिए इसकी सुरक्षा का दायित्व भी हमारा है।

शहर के ऑडिटोरियम में जिला प्रशासन की ओर से आयोजित जननायक शहीद बिरसा मुंडा की जयंती के मौके पर उनके जीवन से जुड़ी घटनाएं और देश के लिए उनके द्वारा दिए गए बलिदान को बताया गया। पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा ने अपने संक्षिप्त उद्बोधन में कहा कि महज 24 वर्ष की उम्र में संसार को अलविदा कहने वाले महान क्रांतिकारी शहीद बिरसा मुंडा को आज भी याद किए जाने का यही अर्थ है कि हम जीवन में कुछ ऐसा कर जाएं जो इतिहास में अमर हो जाए। उन्होंने कहा कि पूरी पीढ़ी के लिए उनके कार्य प्रेरणादायी हैं। वर्तमान झारखंड में जन्म लेने वाले बिरसा मुंडा बेहद योग्य थे। पढ़ाई के लिए उन्हें धर्म परिवर्तन करना पड़ा था मगर जब उन्हें यह अहसास हुआ कि उनकी संस्कृति उनसे छिन रही है तो उन्होंने विद्रोह कर दिया।

कार्यक्रम में स्वतंत्रता सेनानी राजाराम सिंह, श्रीमती लल्लबाई शर्मा व कमल अग्रवाल का सम्मान किया गया। वहीं एडीएम प्रेम सिंह द्वारा आभार जताया गया। इस मौके पर एसडीएम भारत भूषण गंगेले, डिप्टी कलेक्टर प्रियांशी भंवर, सीएमओ ओमपाल सिंह भदौरिया सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here