पुलिस ने पति-पत्नी को पीटा, गुस्साए ग्रामीणों ने किया चक्काजाम

छतरपुर| मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में रविवार सुबह ग्रामीणों ने झांसी-खजुराहो फोर लेन पर चक्काजाम कर दिया| ग्रामीणों ने पुलिस पर स्थानीय दंपत्ति के साथ मारपीट करने और गुंडागर्दी करने का आरोप लगाते हुए चक्काजाम किया| जाम की खबर लगते ही नौगांव के एसडीएम और एसडीओपी समेत बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गया| दोषी पुलिस कर्मियों पर कार्यवाही का आश्वासन मिलने के बाद ग्रामीणों ने चक्काजाम खत्म किया|

दरअसल पूरा घटनाक्रम झांसी-खजुराहो फोर लेन के अलीपुरा का है| जहां पीएनसी कंपनी द्वारा फोर लेन सड़क का निमार्ण किया जा रहा है| इस निर्माण के अंतर्गत स्थानीय रहवासी संतोष पाल का कच्चा मकान भी आ रहा है| सड़क निर्माण में घर की जमीन आने से संतोष मुआवाजे के लिए तहसील में मामला चला रहा है| मामले का फैसला अब तक नहीं आने के कारण संतोष और अन्य ग्रामीणों द्वारा मकान को गिराने पर आपत्ति जताई जा रही थी| इसके बाद भी पीएनसी कंपनी और पुलिसकर्मियों ने जबरदस्ती कर जेसीबी की मदद से उसका मकान गिरा दिया| मकान गिराने का जब संतोष और उसकी पत्नी ने विरोध किया, तो इन पुलिसकर्मियों ने दोनों के साथ मारपीट कर दी| पुलिस की पिटाई से संतोष की पत्नी बेहोश हो गई| जैसे ही ग्रामीणों को इस घटना के बारे में पता चला तो उन्होंने पुलिस की इस गुंडागर्दी के खिलाफ सड़क पर चक्काजाम कर दिया| इस दौरान करीब 3 घंटे तक लगे जाम से हाईवे पर गाड़ियों की लंबी कतार लग गई| चक्काजाम की सुचना पाकर मौके पर नौगांव के एसडीएम और एसडीओपी समेत बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गई| उन्होंने दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई का आश्वासन देकर ग्रामीणों का चक्काजाम समाप्त करवाया|