गौरिहार थाने से हटाईं गईं थाना प्रभारी सरिता वर्मन फाइलें लेकर गायब

छतरपुर, संजय अवस्थी
थाना क्षेत्र के ग्राम रेवना में एक संदेहास्पद मौत के मामले में उचित कार्यवाही नहीं करने के आरोपों के कारण पूर्व विधायक विजय बहादुर सिंह के धरने के उपरांत थाने से हटाई गईं गौरिहार थाना प्रभारी सरिता वर्मन पिछले 24 घंटों से थाना पुलिस के संपर्क में नहीं है। उन्हें एसपी ने 10 अगस्त को पूर्व विधायक द्वारा एसपी ऑफिस में किए गए धरने के बाद लाइन अटैच किया था। उन्होंने न तो लाइन में आमद दी है और न ही वे थाने में मौजूद हैं। उधर नवागत थाना प्रभारी जसवंत सिंह राजपूत ने उनकी गैर मौजूदगी में चार्ज तो संभाल लिया है लेकिन थाने में कई संगीन मामलों की केस फाइल नहीं मिल रही हैं।

खुद थाना प्रभारी जसवंत राजपूत ने इस बात की पुष्टि की है कि थाने में 302, 376, 307 जैसे कुछ संगीन मामलों की डायरियां नहीं है। मुंशी से पूछे जाने पर उसने बताया कि डायरियां मेडम के पास हैं। पुलिस सूत्रों के मुताबिक थाना प्रभारी जसवंत राजपूत के चार्ज संभालने के पहले ही उक्त डायरियां थाने से हटाई गईं। इस मामले की जानकारी थाना प्रभारी ने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को दे दी है। सूत्र यह भी बताते हैं कि सरिता वर्मन पुन: अपने राजनैतिक शुभचिंतकों की मदद से गौरिहार थाना पाने के प्रयास में जुटी हुई हैं। खबर लिखे जाते समय उनके मोबाइल पर भी संपर्क किया गया लेकिन उन्होंने फोन अटेण्ड नहीं किया।

इनका कहना-

फिलहाल मुझे इस मामले की जानकारी नहीं है। फिर भी ये विभाग का इंटरनल मामला है। डायरियां जहां होंगी वहां से थाने पहुंच जाएंगी।

सचिन शर्मा, एसपी, छतरपुर