पूर्व विधायक की चेतावनी, ‘रेत का अवैध उत्खनन नहीं रुका तो धरने पर बैठ जाऊंगा’

1069
-The-former-MLA's-warning

छतरपुर| अवैध रेत उत्खनन के मामले में कभी अपनी ही सरकार को घेरने वाले भाजपा के पूर्व विधायक ने अब कमलनाथ सरकार में एक बार फिर रेत उत्खनन का मुद्दा उठाया है| छतरपुर जिले की चंदला विधानसभा के पूर्व विधायक आरडी प्रजापति ने प्रशासन को चेतावनी दी है कि तीन दिन में अवैध उत्खनन रोका जाए, अगर ऐसा नहीं हुआ तो वे हजारों समर्थकों के साथ कलेक्ट्रेट में धरना पर बैठ जाएंगे। पूर्व विधायक ने इस सम्बन्ध में छतरपुर कलेक्टर को आज एक पत्र लिखकर केन नदी में हो रहे बालू के अवैध उत्खनन को तुरंत बंद किए जाने की मांग की है।

पूर्व विधायक व टीकमगढ़ लोकसभा क्षेत्र से भाजपा से टिकट मांग रहे आरडी प्रजापति ने आज कलेक्टर को लिखे अपने पत्र में आरोप लगाया कि चंदला विधानसभा के अंतर्गत केन नदी के घाटों पर बड़ी मात्रा में माफियाओं द्वारा बालू का अवैध उत्खनन किया जा रहा है। रेत के इस खेल में मध्य प्रदेश सहित उत्तर प्रदेश के बालू माफिया भी सक्रिय है, जो दहशत फैला कर नदी का सीना चीर कर अवैध रूप से बालू ट्रकों में लोड करा कर प्रशासन की मिलीभगत से उन्हें महंगे दामों पर बैचते हैं, जिससे मध्य प्रदेश शासन को करोड़ों रुपए के राजस्व की क्षति हो रही है।

पूर्व विधायक का आरोप है कि रेत माफिया ग्रामीणों पर दहशत फैला कर बालू का अवैध उत्खनन कर रहा है। जो ग्रामीण इसे रोकने की  कोशिश करता है उसे डरा धमकाकर माफिया क्षेत्र में दहशत फैलाते हैं। उन्होंने कहा कि बालू के इस अवैध उत्खनन में पुलिस और प्रशासन की मिलीभगत है और इसे तुरंत बंद किया जाना चाहिए। पूर्व विधायक आरडी प्रजापति ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि उनके पत्र देने के तीन दिवस के भीतर केन नदी में हो रहे अवैध उत्खनन को नहीं रोका जाता तो क्षेत्र के हजारों समर्थकों के साथ वे कलेक्ट्रेट छतरपुर में धरने पर बैठ जाएंगे और उग्र प्रदर्शन करेंगे| 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here