दुआओं का दौर जारी, बोरवेल में गिरी बच्ची तक पहुंचा रेस्क्यू अमला

छतरपुर, डेस्क रिपोर्ट। छतरपुर में दोनी गाँव के खेत में बोरवेल में गिरी डेढ़ साल की मासूम को गड्ढे से निकालने की कवायद जारी है। लगभग मासूम तक अमला पहुंच ही गया है, जिस गड्ढे में बच्ची गिरी हैं, उसके समांतर ही एक अन्य गड्ढा खोदा गया है। माना जा रहा है अगले कुछ देर में मासूम को बोरवेल से निकाल लिया जाएगा। मौके पर मौजूद रेस्क्यू टीम ने बच्‍ची को बचाने के लिए सुरंग बनाने का काम पूरा कर लिया है। बच्‍ची तक टीम के हाथ पहुंचने ही वाले हैं। कुछ ही देर में बच्‍ची रेस्‍क्‍यू टीम निकाल लेगी। सभी लोगों की निगाह टीम पर लगी हुई हैं। सभी प्रार्थना कर रहे हैं बच्‍ची सकुशल बाहर आए। बताया जा रहा है कि बोरवेल में गिरने के बाद बच्ची होश में है और वह लगातार रो रही है। उसके रोने की आवाज से ही स्वजनों को पता चला कि वह बोरवेल में गिरी है।

यह भी पढ़े.. 50वा विजय दिवस : सीसुब ने 1971 के अमर वीर शहीदों को दी श्रद्धांजलि, किया याद

दौनी गांव में बोरवेल में गिरी बच्‍ची को निकालने के लिए रात में भी रेस्‍क्‍यू ऑपरेशन चालू है। रात में रेस्‍क्‍यू ऑपरेशन चलाने के लिए एनडीआरएफ की टीम ने रोशनी सहित अन्‍य सभी व्‍यवस्‍थाएं की है। यानि रात में भी बचाव किसी तरह से रुकेगा नहीं। सभी का प्रयास है कि बच्‍ची को जल्‍द से जल्‍द बोरबेल से निकाल लिया जाए। गौरतलब है कि  गुरुवार शाम नया गांव क्षेत्र के दोनी गांव में डेढ़ साल की बालिका खेलते खेलते बोरवेल में गिर गई। बोरवेल सूखा हुआ था। जैसे ही बच्ची के बोरवेल में गिरने का पता स्वजनों को चला, वैसे ही उन्होंने पहले स्वयं उसे निकालने का प्रयास किया। लेकिन वे सफल नहीं हुए। उन्होंने पुलिस व प्रशासन को इस बात की सूचना दी।

यह भी पढ़े.. जब आरक्षित कोच में जाने के लिए नहीं खुला दरवाजा, आयोग ने रेल्वे पर लगाया हर्जाना

सूचना मिलते ही पुलिस व प्रशासन के अफसर व टीम मौके पर पहुंच गई थी और राहत कार्य शुरू कर दिए थे। बोरवेल में गिरी बच्‍ची 15 फीट पर फंसी हुई है। अब प्रशासन उसे निकालने के लिए बोर के पास ही 15 फीट का गडढा खुदवाया है। बच्ची का नाम दिव्यांशी कुशवाह है। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर एसपी व कलेक्‍टर  पर पहुंच गए थे और राहत कार्य का उन्होंने पल पल जायजा लिया। रेस्क्यू कार्य को गति देने और बोर वेल में फसी बच्ची दिव्यांशी को सुरक्षित निकालने के लिए जिला प्रशासन द्वारा स्टेट डिजास्टर इमरजेंसी रेस्पॉन्स फोर्स के दल को ग्वालियर से बुलाया है। साथ ही होमगार्ड छतरपुर की टीम भी घटना स्थल पर पहुंच गई है।