नाबालिग को बंधक बनाकर देह व्यापार में थी धकेलने की तैयारी, पुलिस ने किया गिरफ्तार

छतरपुर। मध्य प्रदेश के छतपुर में एक नाबालिग को बंधक बनाकर उसे देह व्यापार में धकेलने वाले परिवार की मंशा को पूरा होने से पहले ही पुलिस ने नाकाम कर दिया। जिले के लोकनाथपुरम में एक किराए के मकान में अनैतिक काम को लंबे समय से अंजाम दिया जा रहा था। जिससे आस पास के लोग भी काफी परेशान थे। लेकिन किराएदार की करतूत सामने आने के बाद मकान मालिक समेत किराएदार पर भी पुलिस ने कार्रवाई कर दोनों को गिरफ्तार किया है। किरायदार ने एक नाबालिग लड़की को बंधक बना लिया था। और एक हफ्ते से उसे अफने कैद में रखे थे। किसी तरह लड़की ने इनके चंगुल से निकलकर पड़ोसियों को आपबीति सुनाई जिसके बाद उसकी मदद के लिए पुलिस को बुलाया गया।

जानकारी के मुताबिक सतना से कार में बैठाकर एक नाबालिग लडक़ी को होटल में काम दिलाने के बहाने छतरपुर निवासी मुकेश सेन और उसकी पत्नि राखी सेन छतरपुर ले आए थे। करीब 6 दिनों तक बंधक बनाकर नाबालिग को रखने के साथ ही उसे देह व्यापार में कदम रखने के लिए मजबूर कर रहे थे। चूंकि लडक़ी इस घिनौने काम में कदम नहीं रखना चाहती थी, इसलिए वह खुद को बचाने का प्रयास करने लगी जैसे ही मौका मिला वैसे ही वह घर से भाग निकली और स्थानीय लोगों की मदद से पुलिस से शिकायत की। सूचना मिलने पर निर्भया, डायल 100 और सिविल लाईन टीआई विनायक शुक्ला मौके पर पहुंचे तथा लड़की के बयान लेकर घर में मौजूद राखी सेन और उसके मकान मालिक रामलाल चौरसिया को गिरफ्तार करते हुए उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 443, 506, 34 तथा 3/6 अनैतिक व्यापार अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया है। घटना का मुख्य सूत्रधार मुकेश सेन मौके से फरार है।