छतरपुर, संजय अवस्थी। लगभग एक माह पहले झमटुली के समीप से निकलने वाली बन्ने नदी के पुल का एक पिलर तेज बहाव के साथ नदी में बह गया था तभी से इस मार्ग पर आवागमन पूर्णत: बंद है और लोगों को भारी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। सोमवार को झमटुली, देवगांव, सलैया, पिपरिया, श्यामरा, कौंडऩ, कटारा, पुरवा, बरद्वाहा सहित दर्जन भर से अधिक गांव के लोगों ने बिजावर विधायक राजेश शुक्ला बब्लू को अपनी समस्या ज्ञापन देकर बताई। जिस पर विधायक ने अधिकारियों को समस्या का निराकरण कराने के निर्देश दिए हैं।

दरअसल, ग्रामीणों ने विधायक को बताया कि उनके लिए यही एक मार्ग ऐसा था जिसके सहारे वे आसानी से बमीठा, छतरपुर, राजनगर तक पहुंचते थे लेकिन रास्ते में पडऩे वाले उक्त पुल का पिलर नदी में बह जाने के बाद से यह मार्ग पूर्णत: बंद है जिस कारण उन्हें भारी समस्या हो रही है। ग्रामीणों ने बताया कि सबसे ज्यादा दिक्कत तब होती है जब किसी मरीज को अस्पताल ले जाना होता है। इसके अलावा थाना, तहसील सहित अन्य शासकीय कार्यालयों तक जाने के लिए भी उन्हें लगभग 40 किमी का चक्कर काटना पड़ रहा है। व्यापारी और विद्यार्थियों को भी भारी समस्या हो रही है। ग्रामीणों ने विधायक को ज्ञापन देते हुए शीघ्र ही समस्या का निराकरण कराने की मांग की जिस पर उन्होंने अधिकारियों से बात कर जल्द से जल्द ग्रामीणों की समस्या को हल कराने के निर्देश दिए। इस मौके पर राज बहादुर सिंह परमार, विशाल शर्मा, नीलेश पांडे, शालू खरे राकेश सहित बड़ी संख्या में लोग रहे।

विधायक बोले, अधिकारी समाधान करें नहीं तो ग्रामीणों के साथ धरने पर बैठूंगा

सोमवार को जब उक्त ग्रामीण जिला मुख्यालय पर अपनी फरियाद लेकर तब क्षेत्रीय विधायक बबलू शुक्ला भी कलेक्ट्रेट में मौजूद थे। उन्होंने ग्रामीणों की समस्या सुनकर पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों से बात की और कहा कि जल्द ही इस समस्या का समाधान करें अन्यथा मैं भी ग्रामीणों के साथ धरने पर बैठूंगा।