Chhindwara : ब्रांडेड कंपनियों की आड़ में चल रहा था अवैध तेल का कारोबार, पुलिस ने मारा छापा

दुकान संचालक सीताराम अग्रवाल के खिलाफ धारा 269 आईपीसी एवं खाद्य एवं औषधि मानक पदार्थ की धारा 56, 58 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया l

Chhindwara food department

छिंदवाड़ा, विनय जोशी। त्यौहारों के सीजन शुरू होते ही मिलाबट खोर सक्रिय हो जाते है। और ब्रांडेड कंपनियों के नाम से मिलावट कर हजारों रुपयों का मुनाफा कमाते है, उन्हें न ही किसी के स्वास्थ्य का ध्यान रहता है न ही किसी की परवाह। जिसके चलते खाद्य विभाग (food department) भी त्यौहारों पर खासकर सक्रीय हो जाता है। इसी के चलते छिंदवाड़ा (Chhindwara) के परासिया (Parasia) नगर में आज पुलिस, खाद्य और राजस्व विभाग की टीम ने परासिया के बाजार चौक स्थित किराने की दुकान में जांच की कार्रवाई की।

यह भी पढ़ें…Sehore News : कान्हा की भक्ति में साध्वी बनी सुनीता, गीता का पाठ करने के बाद हाथों से निकलता है मक्खन

पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि बाजार चौक परासिया में सीताराम अग्रवाल अपनी किराना दुकान में दूसरी कंपनी के सोयाबीन तेल को ब्रांडेड माधुरी एवं कृषि कंपनी के लेवल लगे डिब्बों में भरकर बेचने के लिए तैयार कर रहा है। जिसकी सूचना पर तत्काल पुलिस दूकान का निरिक्षण करने पहुंची। जहां निरिक्षण के दौरान खबर सही पाई गई। जिसके बाद मौके पर खाद्य विभाग की टीम एवं राज विभाग की टीम को बुलाया गया। जिनके द्वारा दुकान का निरीक्षण किया गया तो दुकान में माधुरी कंपनी के ब्रांडेड लेवल लगे 2 जार, कृति कंपनी के लेवल लगे 1 जार एवं एमपी गोल्ड कंपनी के लेवल लगा 1 जार व बिना लेवल के 3 जार एवं विभिन्न कंपनियों के लेवल लगे खाली डब्बे मिले l

जिसके बाद मौके पर से 72 लीटर सोयाबीन तेल जब्त किया गया और सैंपल निकालकर जांच हेतु भेजा गया। दुकान का निरीक्षण करने पर दुकान में गंदगी भी पाई गई एवं एक बार उपयोग किए गए जार को बिना परिष्कृत किए उनमें दोबारा खाद्य तेल भरकर देखने से संक्रमण होने की पूरी संभावना पाई गई। जिसके बाद दुकान संचालक सीताराम अग्रवाल के खिलाफ धारा 269 आईपीसी एवं खाद्य एवं औषधि मानक पदार्थ की धारा 56, 58 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया l

यह भी पढ़ें…Jabalpur News: बिना लाइसेंस के संचालित हो रहा था हुक्का बार, कैफे संचालक गिरफ्तार