लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, 10 हजार की घूस लेते रोजगार सहायक पकड़ा

लोकायुक्त को फोन के माध्यम से उपलब्ध कराई और उसके बाद लोकायुक्त की टीम ने उसे पंचायत भवन में ही धर दबोचा।

Chhindwara Lokayukta Police : सरकार भ्रष्टाचार पर लगातार नकेल कस रही है और भ्रष्ट अधिकारी कर्मचारी रिश्वत (Bribe) लेने से नहीं घबराते। उन्हें ना तो अपनी प्रतिष्ठा जाने का डर है और ना ही नौकरी पर खतरे की चिंता। इसी क्रम में छिंदवाड़ा पंचायत के रोजगार सहायक को आज लोकायुक्त की टीम ने 10 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों दबोच लिया।

यह है मामला

बता दें कि गणेश बेलवंशी पिता मदन बेलवंशी (49 ) निवासी मोहगांव किशन, तहसील जुन्नारदेव ने शिकायत की थी कि मोहगांव किशन के रोजगार सहायक मुकेश बेलवंशी पिता हल्कू बेलवंशी ( 39 ) निवासी ग्राम मोहगांव किशन ने कपिल धारा योजना के तहत कूप बनवाने के लिए दस हजार की रिश्वत की मांग की थी, जिसके बाद 5 जनवरी को लोकायुक्त की टीम योजनाबध्द तरीके से जुन्नारदेव पहुंची। जैसे की पहले से तय था, आवेदक गणेश बेलवंशी रिश्वत के 10 हजार रूपए लेकर पंचायत भवन पहुंचा जहां पर रोजगार सहायक ने उसे पैसे लेकर बुलाया था, वहीं जैसे ही रोजगार सहायक मुकेश बेेलवंशी ने उससे 10 हजार मांगे तो गणेश ने पैसे दे दिया और फिर पंचायत के बाहर खड़ी लोकायुक्त की टीम ने जीआरएस को रंगे हाथों धर दबोचा। फिलहाल टीम आगे की कार्रवाई कर रही है।

लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, 10 हजार की घूस लेते रोजगार सहायक पकड़ा

गौरतलब है कि नए साल की शुरुआत में लोकायुक्त ने यह पहली कार्यवाही भले ही की है, लेकिन बीते साल में लोकायुक्त ने कुल मिलाकर 10 बड़ी कार्रवाई की थी जिसमें कई बड़े अधिकारी और कर्मचारियों पर गाज गिरी थी।