छिंदवाड़ा, विनय जोशी। छिंदवाड़ा (Chhindwara) में बाघ (Tiger) की खाल के साथ तीन आरोपी पकड़ने में पुलिस को सफलता मिली है। बाघ की खाल की अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत करीब 50 लाख रु बताई जा रही है । एसपी विवेक अग्रवाल ने पुलिस कंट्रोल रूम में जानकारी देते हुए बताया कि मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने घेराबंदी करके आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

यह भी पढ़ें…MP College: कॉलेज छात्रों को लेकर विभाग का बड़ा फैसला, नए सत्र से मिलेगा लाभ

जानकारी के अनुसार सोमवार देर रात कुंडीपुरा थाना क्षेत्र के अंतर्गत पुलिस ने घेराबंदी करके बालाघाट निवासी तीन लोगों को मोटरसाइकिल के साथ गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से एक बाघ की खाल, नाखून एवं दांत तथा अन्य अवशेष बरामद किए हैं। इस मामले में तीन आरोपियों को रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है। एवं दो आरोपी फरार बताए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें…Jabalpur : नर्सों की हड़ताल के चलते 5 घंटे बाद मिला इलाज, अस्पताल के सामने तड़पते रहे पति-पत्नी, ये है पूरा मामला

पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल ने बताया कि अलग-अलग टीम बनाकर 1 टीम को बाघ की खाल का सौदा करने के लिए भेजा गया और आरोपियों को घेर कर रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है। बाघ का शिकार करंट लगाकर बालाघाट जिले के हट्टी वन क्षेत्र में किया जाना बताया जा रहा है। आरोपियों पर वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम के अंतर्गत विभिन्न धाराओं में कार्रवाई की जा रही है। आरोपियों के नाम धनेंद्र टेकाम, परदेसी उईके एवं अरविंद मरावी बताए गए हैं। सभी बालाघाट जिले के किरनापुर क्षेत्र के निवासी हैं ।

https://vimeo.com/571701628