छिंदवाड़ा, विनय जोशी। मध्यप्रदेश शासन द्वारा चलाये जा रहे अनुश्रवण कार्यक्रम के अंतर्गत बुधवार को जिला कलेक्टर ने छिंदा क्लस्टर में आने वाली ग्रामपंचायतों के कार्यो की समीक्षा कर 2541 शिकायतों तत्काल जगह पर निराकरण किया। इसी के साथ उन्होने कहा कि जो अधिकारी इन शिकायतों के निराकरण में लापरवाही करेंगे, उनके खिलाफ एक्शन लिया जाएगा।

अनुश्रवण कार्यक्रम को लेकर छिंदा क्लस्टर में जिला कलेक्टर सौरभ कुमार सुमन ने संबंधित अधिकारियों को ग्रामीणों द्वारा दी गई शिकायतों का गंभीरता से निराकरण करने के बारे में निर्देश दिए। उन्होंने इस मामले में लापरवाही बरतने पर कड़ी कार्यवाही की बात कही। जानकारी के अनुसार छिंदा पहुंचे कलेक्टर के सामने 48 ग्राम पंचायतों के ग्रामीणों की शिकायतों को नोडल अधिकारियों के द्वारा रखा गया, जिसमें 2541 शिकायतें आई थी। इन शिकायतों को सुनने और निराकरण के निर्देश देने के बाद कलेक्टर ने सहपानी-छितरी एवं खेरीचेतु में निर्माण कार्यों का निरीक्षण भी किया। ग्रामीणों को शासन की योजनाओं का लाभ देने एवं ग्रामीणों की समस्याओं को हल करने के लिए छिंदा में लगाए गए शिविर में जिला पंचायत सीईओ गजेंद्र नागेश, एसडीएम मनोज कुमार प्रजापति, तहसीलदार कमलेश राम नीरज, जनपद सीईओ सलीम खान, आरईएस के एसडीओ आरपी सोनी उपयंत्री संबंधित स्टाफ के अलावा विभिन्न विभाग के अधिकारी सरपंच एवं रोजगार सहायक उपस्थित थे।