छिंदवाड़ा में छेड़छाड़ से परेशान युवती ने किया आत्मदाह का प्रयास, हालत गंभीर

छिंदवाड़ा। मध्य प्रदेश के दमोह में छेड़छाड़ से तंग आकर तालाब में कूदकर छात्रा ने आत्महत्या कर ली थी। अब ऐसा ही एक मामला मुख्यमंत्री कमलनाथ के गृह क्षेत्र छिंदवाड़ा से सामने आया है| जहां छेड़छाड़ से परेशान 21 वर्षीय युवती ने खुद पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा ली। युवती को अस्पताल में इलाज चल रहा है, जहां उसकी हालत गंभीर है| 

जानकारी के मुताबिक कोतवाली थाना अंतर्गत क्षेत्र में शनिवार रात छेड़छाड़ से परेशान 21 वर्षीय युवती ने खुद पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा ली। युवती की हालत गंभीर है। बताया जा रहा है कि युवती गांव से आकर शहर में किराए से रहती है। युवक गोल्डी उर्फ योगेश पुत्र रमेश चंचल (24) उसे लगातार परेशान कर रहा था। इस घटना के बाद युवक भी संदिग्ध परिस्थितियों में झुलस गया।पुलिस अब इस मामले की जांच में जुटी है। पुलिस के अनुसार युवक ने छेड़छाड़ के साथ उसने युवती को बदनाम करने की धमकी दी थी। इससे तंग आकर युवती ने खुद को आग लगा ली। पुलिस ने युवती की शिकायत पर गोल्डी के खिलाफ मामला दर्ज किया है।  

प्रदेश में छेड़छाड़, दुष्कर्म के मामले लगातार सामने आ रहे हैं| दमोह जिले के जबलपुर नाका चौकी क्षेत्र के लिधौरा समन्ना में बुधवार शाम तालाब में कूदकर छात्रा ने आत्महत्या कर ली थी। शनिवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ से जब इस सबंध में पूछा गया कि एमपी छेड़छाड़ और दुष्कर्म के मामले में यूपी बन रहा है तो उन्होंने कहा- ”मध्य प्रदेश कभी उत्तर प्रदेश नहीं बनेगा, आप देखते देखते जाइए आगे क्या होता है।” इस बीच छिंदवाड़ा में ही इस तरह का मामला सामने आया है| प्रदेश में एक बार फिर महिला सुरक्षा को लेकर सवाल उठने लगे हैं|