लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, 50 हजार की रिश्वत लेते रेंजर रंगेहाथों गिरफ्तार

पांढुर्ना में लकड़ी का फर्नीचर बनाने वाले बढ़ई राजना गांव निवासी श्याम राव से पांढुर्ना फॉरेस्ट रेंज के रेंजर दिलीप भलावी ने चोरी की लकड़ी का इस्तेमाल करने का आरोप लगाकर एक लाख रुपए की रिश्वत मांगी थी|

रिश्वत

छिंदवाड़ा, विनय जोशी| मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के छिंदवाड़ा (Chhindwara) जिले में लोकायुक्त (Lokayukt) ने बड़ी कार्रवाई की है| जिले के पांढुर्ना में लोकायुक्त ने एक रिश्वतखोर रेंजर (Ranger) को 50 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार किया है। रेंजर ने एक बढ़ई से फर्नीचर का कामकाज चलाने के नाम पर एक लाख रुपए की रिश्वत मांगी थी| आरोपी रेंजर उसे लकड़ी चोरी के झूठे केस में फंसाने की धमकी दे रहा था|

जानकारी के मुताबिक, पांढुर्ना में लकड़ी का फर्नीचर बनाने वाले बढ़ई राजना गांव निवासी श्याम राव से पांढुर्ना फॉरेस्ट रेंज के रेंजर दिलीप भलावी ने चोरी की लकड़ी का इस्तेमाल करने का आरोप लगाकर एक लाख रुपए की रिश्वत मांगी थी| रिश्वत मांगे जाने की शिकायत कारीगर ने जबलपुर लोकायुक्त एसपी से की थी।

रेंजर ने कारीगर को रिश्वत के 50 हजार रुपए लेकर बुलाया | गुरुवार दोपहर करीब पौने दो बजे श्याम राव केमिकल लगे नोट लेकर पहली किश्त देने दिलीप सिंह भलावी के सरकारी आवास पहुंचे। यहां जैसे ही उन्होंने रेंजर को रुपए दिए लोकायुक्त की टीम ने उसे रंगेहाथों गिरफ्तार कर लिया। लोकायुक्त पुलिस ने रेंजर के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया है।